Home /News /nation /

दिल्ली पुलिस के 'क्रूर रवैये' के विरोध में देश भर में डॉक्टर हड़ताल पर, स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित

दिल्ली पुलिस के 'क्रूर रवैये' के विरोध में देश भर में डॉक्टर हड़ताल पर, स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित

विभिन्न अस्पतालों के रेजिडेंट डॉक्टरों का विरोध जारी है. फाइल फोटो- ANI

विभिन्न अस्पतालों के रेजिडेंट डॉक्टरों का विरोध जारी है. फाइल फोटो- ANI

नीट पीजी 2021 (Neet - PG 2021) काउंसलिंग में देरी को लेकर दिल्ली में बड़ी संख्या में रेजिडेंट डॉक्टरों ने प्रदर्शन किया और इसी दौरान सड़कों पर पुलिस और डॉक्टरों के बीच झड़प हो गयी. दोनों पक्षों का दावा है कि उनकी ओर के कई लोग घायल हुए हैं. रेजिडेंट डॉक्टरों ने अपना आंदोलन तेज करते हुए सोमवार को सांकेतिक रूप से 'अपने लैब कोट लौटा दिए' और सड़कों पर मार्च निकाला.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया मेडिकल एसोसिएशन (FIMA) ने 29 दिसंबर को सुबह 8 बजे से देश भर में सभी स्वास्थ्य सेवाओं को पूरी तरह से बंद करने का आह्वान किया है. दरअसल नीट-पीजी 2021 (NEET PG) काउंसलिंग में देरी को लेकर दिल्ली में बड़ी संख्या में रेजिडेंट डॉक्टरों ने प्रदर्शन किया और इसी दौरान सड़कों पर पुलिस और डॉक्टरों के बीच झड़प हो गयी. दोनों पक्षों का दावा है कि उनकी ओर के कई लोग घायल हुए हैं. FIMA ने कहा है कि वह दिल्ली पुलिस के क्रूर रवैये के विरोध में यह हड़ताल कर रहा है. बता दें फेडरेशन ऑफ रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन पिछले कई दिनों से विरोध प्रदर्शन कर रहा है.

    एसोसिएशन के अध्यक्ष मनीष ने दावा किया कि बड़ी संख्या में प्रमुख अस्पतालों के रेजिडेंट डॉक्टरों ने सोमवार को विरोध स्वरूप प्रतीकात्मक तौर पर अपना एप्रन (लैब कोट) वापस कर दिया. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में डॉक्टरों का आंदोलन जारी रहने से केंद्र द्वारा संचालित तीन अस्पतालों – सफदरजंग, आरएमएल और लेडी हार्डिंग अस्पतालों के साथ ही दिल्ली सरकार के कुछ अस्पतालों में मरीजों का इलाज प्रभावित हुआ है.

    पुलिस और डॉक्टरों का क्या है कहना?
    हालांकि, पुलिस ने लाठीचार्ज करने या अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने के आरोप से इनकार किया और कहा कि 12 प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया गया और बाद में उन्हें रिहा कर दिया गया. उन्होंने कहा कि छह से आठ घंटे तक प्रदर्शनकारियों ने आईटीओ रोड को जाम कर दिया. उनसे बार-बार अनुरोध किया गया कि वे वहां से हट जाएं, लेकिन उन्होंने इसे अनसुना कर दिया.

    पुलिस ने बताया कि देर रात बड़ी संख्या में रेजिडेंट डॉक्टर सरोजनी नगर थाने के सामने जमा हो गए, लेकिन किसी को हिरासत में नहीं लिया गया है. वहीं डॉक्टरों का दावा है कि जब उन्होंने सफदरजंग अस्पताल से केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया के आधिकारिक आवास तक मार्च निकालने का प्रयास किया तो पुलिस ने बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया.

    Tags: Aiims doctor, Delhi, Delhi Doctors, Delhi police, Neet exam, NEET UG 2021 examination

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर