Women FIFA World Cup 2019: अमेरिका के घमंड से नहीं डरती है नीदरलैंड्स, फाइनल में देगी जमकर टक्कर

अमेरिका टूर्नामेंट की मौजूदा विजेता है (ap)

अमेरिका टूर्नामेंट की मौजूदा विजेता है (ap)

अमेरिका को फाइनल में जीत का बड़ा दावेदार माना जा रहा है. नेदरलैंड्स को यह मुकाबला जीतने के लिए बड़ा उलटफेर करना होगा.

  • Share this:
एक महीने से चल रहे फीफा महिला वर्ल्ड कप को रविवार को होने वाले खिताबी मुकाबले के बाद विजेता मिल जाएगा. टूर्नामेंट का फाइनल मौजूदा चैंपियन अमेरिका और नेदरलैंड्स के बीच होगा.



अमेरिका को फाइनल में जीत का बड़ा दावेदार माना जा रहा है. नेदरलैंड्स को यह मुकाबला जीतने के लिए बड़ा उलटफेर करना होगा. अमेरिका अब तक तीन बार यह खिताब जीत चुका है. टूर्नामेंट के इतिहास में अब तक ऐसा नहीं हुआ कि टीम सेमीफाइनल या तीसरे स्थान पर ना रही हो. सेमीफाइनल मुकाबले में अमेरिका ने इंग्लैंड को 2-1 से मात दी वहीं नेदरलैंड्स ने स्वीडन को 1-0 से हराया था. अमेरिका अपनी जीत को बेहद आश्वस्त है हालांकि नेदरलैंड्स को इस बात से फर्क नहीं पड़ता. टीम की कोच सेरिना विगमैन ने कहा, 'उन्हें अपनी जीत का विश्वास है उसमें कुछ गलत नहीं है. उन्होंने बहुत सी जीत हासिल की है, इस कारण ही उनमें यह घमंड है. हालांकि हमारा ध्यान हमारे खेल पर हैं'.



चोटिल है नेदरलैंड्स की स्टार लिका 





नेदरलैंड के लिए सबसे बड़ी चिंता उसकी स्टार खिलाड़ी का चोटिल होना है जिससे फाइनल में उनकी मुश्किलें बढ़ सकती है. टीम की लेफ्ट विंगर लिका मर्टन्स स्वीडन के खिलाफ मुकाबले में पैर में लगी चोट के कारण मैदान से बाहर से चली गई थी. इसके बाद वह मैच के दूसरे हाफ में भी नहीं खेली थी. राउंड ऑफ 16 में जापान के खिलाफ हुए मुकाबले में वह गोल का जश्न मनाते हुए चोटिल हो गई थी.
women world cup 2019, fifa world cup 2019,, women football, america, chile
लेफ्ट विंगर लिका मर्ट्न्स को जापान के खिलाफ चोट लग गई थी (ap)




इस टूर्नामेंट का आयोजन इस साल फ्रांस में हुआ है.  इस टूर्नामेंट का फाइनल जो कि अमेरिका और नीदरलैंड की टीम के बीच खेला जाना है वह फ्रांस के Park Olympique Lyonnais स्टेडियम में भारतीय समयानुसार रविवार रात 8:30 बजे खेला जाएगा.  फ्रांस ने पहली बार इस टूर्नामेंट का आयोजन किया है. जबकि यूरोपीय देश में यह टूर्नामेंट तीसरी बार आयोजित हुआ है. फ्रांस के नौ शहरों में यह टूर्नामेंट के मुकाबले खेला गया था.



यह महिला फुटबॉल वर्ल्ड कप का 8वां आयोजन था, जिसमें 24 देशों की टीमों ने एक दूसरी के साथ कड़ी टक्कर के साथ मैच खेला. एक महीने तक चले फुटबॉल के इस महासंग्राम में इस बार चार नई टीमों से इस मुकाबले में हिस्सा लिया था, जिसमें चिली, दक्षिण अफ्रीका, जमैका और स्कॉटलैंड की महिला फुटबॉल टीम शामिल थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज