बार्ज P-305 मामले में मुंबई पुलिस ने की कार्रवाई, कप्तान के खिलाफ गैर-इरादतन हत्या का मामला दर्ज

मुंबई के पास समुद्र में डूबी थी बार्ज. (फाइल फोटो)

मुंबई के पास समुद्र में डूबी थी बार्ज. (फाइल फोटो)

Barge P-305 case: चीफ इंजीनियर और वाइस इंजीनियर मुस्तफिजुर रहमान शेख की शिकायत पर पुलिस ने पी-305 के कप्तान राकेश वल्लभ समेत अन्य लोगों के खिलाफ गैर-इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया गया है.

  • Share this:

मुंबई. टाउते तूफान (Tauktae) के दौरान डूबे बार्ज पी-305 (Barge P-305) के मामले में मुंबई पुलिस (Mumbai Police) ने कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी है. पुलिस ने घटना में हुई मौतों को लेकर बार्ज के कप्तान समेत अन्य लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है. खबर है कि पुलिस ने बार्ज पर मौजूद वाइस इंजीनियर की शिकायत पर मामला तैयार किया है. भारतीय नौसेना (Indian Navy) का रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है. गुरुवार शाम तक 49 और शवों को बरामद कर लिया गया था.

चीफ इंजीनियर और वाइस इंजीनियर मुस्तफिजुर रहमान शेख की शिकायत पर पुलिस ने पी-305 के कप्तान राकेश वल्लभ समेत अन्य लोगों के खिलाफ गैर-इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया गया है. पुलिस ने 304(2) के अलावा कई अन्य धाराओं में यह कार्रवाई की है. आरोप है कि मौसम विभाग की तरफ से चेतावनी जारी की जाने के बाद भी वल्लभ ने बार्ज पी-305 के कर्मियों की सुरक्षा पर ध्यान नहीं दिया. इंजीनयर ने आरोप लगाया था कि कप्तान की अनदेखी के चलते कई जानें गईं.

यह भी पढ़ें: टाउते तूफान में 4 दिन पहले डूबा था बार्ज पी-305, 37 शव बरामद, 38 लोग अब भी लापता

फिलहाल नौसेना के 6 जल पोत, P8I मैरिटाइम एयरक्राफ्ट, चेतक, एएलएच और सी किंग हैलिकॉप्टर्स रेस्क्यू कार्य में लगे हुए हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 26 कर्मियों तलाश अभी भी जारी है. बार्ज पर घटना के वक्त 261 कर्मी मौजूद थे, जिनमें से 186 लोगों को बुधवार शाम तक बचा लिया गया था. गुरुवार को 27 पीड़ितों का शव INS बैस के जरिए मुंबई लाया गया.


भाषा के अनुसार, नौसेना और तटरक्षक के पोतों तथा विमानों ने पश्चिमी तटीय क्षेत्र के आसपास समुद्र में लापता लोगों की तलाश की. भारतीय नौसेना ने इस काम में छह जलपोतों को लगाया है. ओएनजीसी ने बचाव अभियान में अपने 20 जहाजों को लगाया है जिनमें एक पोत एफ्कॉन्स का भी शामिल हो गया है. इनके अलावा बचाव और तलाश अभियान में 15 हेलीकॉप्टर भी लगे हैं जिनमें सात ओएनजीसी के और चार-चार नौसेना एवं तटरक्षक के हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज