केपटाउन से रवाना हुई सागर परिक्रमा पर निकली महिला नेवी ऑफिसर्स की टीम

भारतीय नौसेना के मुताबिक, महिलाओं की टीम की ओर से दुनिया का चक्कर लगाने के मिशन पर निकली यह पहली भारतीय यात्रा थी

भाषा
Updated: March 14, 2018, 11:33 PM IST
केपटाउन से रवाना हुई सागर परिक्रमा पर निकली महिला नेवी ऑफिसर्स की टीम
आईएनएसवी
भाषा
Updated: March 14, 2018, 11:33 PM IST
भारतीय नौसेना के महिला कर्मियों की सेलिंग टीम भारत वापसी के लिए आज दक्षिण अफ्रीका के केपटाउन से रवाना हो गई. यह सेलिंग टीम करीब छह महीने पहले पूरी दुनिया का चक्कर लगाने की ऐतिहासिक यात्रा पर निकली थी.

भारतीय नौसेना के मुताबिक, महिलाओं की टीम की ओर से दुनिया का चक्कर लगाने के मिशन पर निकली यह पहली भारतीय यात्रा थी. नौसेना ने यहां एक बयान में कहा, ‘‘ भारतीय नौसेना सेलिंग बोट (आईएनएसवी) तारिणी दुनिया का चक्कर लगाने के अंतिम चरण के तहत बुधवार को केपटाउन से गोवा के लिए रवाना हुआ. भारतीय उच्चायुक्त रुचिरा कम्बोज की ओर से जहाज को झंडी दिखाकर रवाना किया गया.’’

यात्रा के चौथे चरण के पूरा होने के बाद आईएनएसवी तारिणी दो मार्च को केपटाउन पहुंचा था. जहाज की कैप्टन लेफ्टिनेंट कमांडर वर्तिका जोशी हैं और इसके चालक दल में लेफ्टिनेंट कमांडर प्रतिभा जमवाल, पी स्‍वाति और लेफ्टिनेंट एस विजया देवी, वी. ऐश्वर्य और पायल गुप्‍ता शामिल हैं.

केपटाउन में हार्बर पर अपने ठहराव के दौरान टीम विभिन्न संस्थानों के छात्रों से मुखातिब हुई. आईएनएसवी तारिणी 55 फुट का सेलिंग बोट है जिसका निर्माण भारत में ही किया गया है. इसे पिछले साल नौसेना में शामिल किया गया था. रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने 10 सितंबर 2017 को गोवा से आईएनएसवी तरिणी को रवाना किया था.

ये भी पढ़ें:

पूर्वी हिंद महासागर में दाखिल हुए चीनी युद्धपोत
News18 Hindi पर Jharkhand Board Result और Rajasthan Board Result की ताज़ा खबरे पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें .
IBN Khabar, IBN7 और ETV News अब है News18 Hindi. सबसे सटीक और सबसे तेज़ Hindi News अपडेट्स. Nation News in Hindi यहां देखें.

और भी देखें

Updated: June 16, 2018 10:34 AM ISTVIDEO: राजाजी टाइगर रिजर्व अगले 6 महीने के लिए बंद
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर