• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • कोरोना वैक्सीन का पहला डोज 96.6% कम करता है मौत का खतरा, दूसरा 97.5%: केंद्र

कोरोना वैक्सीन का पहला डोज 96.6% कम करता है मौत का खतरा, दूसरा 97.5%: केंद्र

केंद्र सरकार ने एक बार फिर तेज वैक्सीनेशन पर जोर दिया है. (सांकेतिक तस्वीर-AP)

केंद्र सरकार ने एक बार फिर तेज वैक्सीनेशन पर जोर दिया है. (सांकेतिक तस्वीर-AP)

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के हेड बलराम भार्गव (Balram Bhargava) ने कहा है-18 अप्रैल से लेकर 16 अगस्त तक के आंकड़े बताते हैं कि वैक्सीन का पहला डोज लगवाने से मौत का खतरा 96.6 फीसदी तो दूसरे डोज से 97.5 फीसदी कम हो जाता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्ली. केंद्र सरकार एक ऐसा कोविड वैक्सीन ट्रैकर (Covid Vaccine Tracker) लॉन्च करने जा रही है जिससे लोग वैक्सीन के प्रभाव के बारे में साप्ताहिक अपडेट पा सकेंगे. साथ ही लोग यह भी जान सकेंगे कि वैक्सीन लगवाने और न लगवाने पर कोरोना से मौत का खतरा कितना है. इसकी जानकारी देते हुए इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के हेड बलराम भार्गव ने कहा है-18 अप्रैल से लेकर 16 अगस्त तक के आंकड़े बताते हैं कि वैक्सीन का पहला डोज लगवाने से मौत का खतरा 96.6 फीसदी तो दूसरे डोज से 97.5 फीसदी कम हो जाता है.

    वहीं केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि मई महीने में लगभग 20 लाख टीके प्रतिदिन लगाए जा रहे थे. अब सितंबर में ये संख्या बढ़कर 78 लाख हो चुकी है. अभी ये संख्या और बढ़ेगी. मई में 6 करोड़ टीके लगाए गए थे जबकि सितंबर के पहले 7 दिन में उससे ज्यादा डोज लगा दिए गए. 86 लाख टीके पिछले 24 घंटे मे लगाये गये. मंत्रालय ने यह भी कहा है कि देश में अब भी कोरोना की दूसरी लहर जारी है.

    अभी केरल है चिंता का सबब
    स्वास्थ्य सचिव ने कहा है कि देश मे सिर्फ केरल ही एक राज्य ही ऐसा है जहां 1 लाख से अधिक कोरोना के सक्रिय केस हैं. देश में कोरोना के कुल मामलों का 61% हिस्सा केरल से है. कुल 3 लाख 93 हजार एक्टिव केस वर्तमान में हैं. केरल में 2 लाख 40 हजार से अधिक केस हैं जबकि महाराष्ट्र में 51400 एक्टिव केस हैं.

    जिन लोगों ने वैक्सीन नहीं लगवाई है, उन्हें जल्द लगवानी चाहिए
    वहीं नीति आयोग के सदस्य और कोविड टास्क फोर्स के हेड डॉ. वीके पॉल ने कहा है- अब साफ हो चुका है कि वैक्सीन के दोनों डोज से ही पूरा प्रोटेक्शन मिलता है. 18+ के करीब 58 फीसदी लोगों को सिंगल डोज लग चुके हैं. ये संख्या 100 प्रतिशत होनी चाहिए. कोई भी छूटना नहीं चाहिए. अब तक करीब 72 करोड़ वैक्सीन डोज दिए गए हैं. जिन लोगों ने वैक्सीन नहीं लगवाई है, उन्हें जल्द लगवानी चाहिए जिससे हर्ड इम्युनिटी हासिल हो.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज