उपलब्धियों और निर्णायक फैसले से भरा रहा मोदी 2.0 का पहला साल : नड्डा

 भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा
भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा

. भाजपा (BJP) अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) ने कहा, ‘‘ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल के प्रथम वर्ष में बहुत निर्णायक फैसले लिए गए हैं.’’

  • Share this:
नई दिल्ली. भाजपा (BJP) अध्यक्ष जे पी नड्डा (JP Nadda) ने शनिवार को कहा कि मोदी सरकार का दूसरा कार्यकाल ऐतिहासिक उपलब्धियों से भरा रहा और इस दौरान उत्पन्न चुनौतियों का निर्णायक एवं समय पर लिये फैसलों के माध्यम से सामना किया गया.

नड्डा ने वीडियो कांफ्रेंस के जरिये प्रेस वार्ता में कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने कोरोना वायरस महामारी से आगे बढ़कर मोर्चा लिया और अन्य देशों के मुकाबले भारत ने मोदी के नेतृत्व में कोरोना के खिलाफ लड़ाई इस तरह लड़ी तथा साहसिक एवं समय पर निर्णय लिये, उससे भारत की स्थिति संभली हुई है.

भारत की कोरोना टेस्ट की क्षमता सिर्फ 10,000 टेस्ट प्रतिदिन थी 
उन्होंने बताया कि लॉकडाउन के वक्त भारत की कोरोना टेस्ट की क्षमता सिर्फ 10,000 टेस्ट प्रतिदिन थी और आज ये क्षमता 1.60 लाख टेस्ट प्रतिदिन है. नड्डा ने मुताबिक, आज करीब 4.50 लाख पीपीई किट्स प्रतिदिन देश में बन रहे हैं. करीब 58,000 वेंटिलेटर्स देश में बन रहे हैं.
नड्डा ने मोदी सरकार द्वारा पिछले एक साल में बड़े फैसले लेने का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘ मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहले साल में बहुत निर्णायक फैसले लिए गए हैं. जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 और 35ए को निरस्त किया गया यह प्रधानमंत्री जी की इच्छा शक्ति का नतीजा था.’’ भाजपा अध्यक्ष ने नागरिकता संशोधन अधिनियम, अनुच्छेद 370 के अधिकांश प्रावधानों को समाप्त करने, आंतकवाद निरोधक कानून को मजबूत बनाने, बैंकों के विलय सहित कई अन्य कदमों को सरकार की महत्वपूर्ण उपलब्धियों के रूप में गिनाया .



साहसिक फैसलों के कारण देश में एक राष्ट्र, एक संविधान के उद्देश्य को मजबूत बनाया
उन्होंने कहा कि इन साहसिक फैसलों के कारण देश में एक राष्ट्र, एक संविधान के उद्देश्य को मजबूत बनाया जा सका . उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35ए को निरस्त किया गया यह प्रधानमंत्री मोदी की इच्छा शक्ति का नतीजा था और इसके सूत्रधार बने हमारे गृह मंत्री अमित शाह जिन्होंने उसे कार्यरूप दिया.

नड्डा ने कहा कि वर्षों से नागरिकता संशोधन बिल लटकाया जा रहा था. अफगानिस्तन, बांग्लादेश और पाकिस्तान से धार्मिक प्रताड़ना के शिकार शरणार्थियों को नागरिकता मिलनी चाहिए थी लेकिन ये हो नहीं पा रहा था . प्रधानमंत्री के इस फैसले के कारण आज सीएए लागू हुआ और उनको मुख्यधारा में शामिल होने का मौका मिला .

नड्डा ने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने अयोध्या मामले में फैसले में देरी कराने का प्रयास किया और अब अदालत के फैसले के बाद भव्य राम मंदिर का निर्माण होगा . प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व मे एक ट्रस्ट का गठन हो गया.

 प्रथम वर्ष में बहुत निर्णायक फैसले लिए गए 
कोविड-19 के मद्देनजर लागू लॉकडाउन का जिक्र करते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि सरकार ने पहले 1.70 लाख करोड़ का प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज दिया. उसके माध्यम से 80 करोड़ लोगों के राशन की व्यवस्था की गई. 20 करोड़ महिलाओं के जनधन खातों में 500 रुपये की मदद, बुजुर्गों और दिव्यांगों को आर्थिक सहायता और मनरेगा मजदूरी में वृद्धि की गई .

उन्होंने किा कि इसके बाद मोदी सरकार ने 20 लाख करोड़ रुपये का आत्मनिर्भर भारत पैकेज दिया. इस पैकेज के माध्यम से ये प्रयास हुआ है कि कैसे हर सेक्टर को आत्मनिर्भर बना कर मुख्यधारा में खड़ा किया जाए और कैसे उन्हें रियायतें दी जाएं .

नड्डा ने कहा, ‘‘ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल के प्रथम वर्ष में बहुत निर्णायक फैसले लिए गए हैं.’’
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज