ड्रग्स व हथियारों के साथ 5 गैंगस्टर गिरफ्तार, पाक से लाकर बेच चुके हैं 500 किलो हेरोइन

डीजीपी ने कहा कि चल रही जांच के दौरान गैवी ने खुलासा किया कि उसने पिछले ढाई सालों के दौरान पाकिस्तान से हथियारों समेत 500 किलो से अधिक हेरोइन की तस्करी की है.

डीजीपी ने कहा कि चल रही जांच के दौरान गैवी ने खुलासा किया कि उसने पिछले ढाई सालों के दौरान पाकिस्तान से हथियारों समेत 500 किलो से अधिक हेरोइन की तस्करी की है.

Punjab Latest news: डीजीपी दिनकर गुप्ता (DGP Dinkar Gupta) ने बताया कि आरोपियों से टोयोटा फाच्र्यूनर, महिंद्रा स्कार्पियो और हुंडई वर्ना समेत तीन वाहन भी बरामद किये गए हैं जो नशों की तस्करी के लिए इस्तेमाल किये जाते थे.

  • Share this:

चंडीगढ़. गैंगस्टर व तस्कर गैवी (Gangster and smuggler) के द्वारा किये खुलासे पर कार्रवाई करते हुए पंजाब पुलिस ने आज उसके पांच साथियों की गिरफ्तारी करके उसके सभी मॉड्यूल का पर्दाफाश करने में सफलता हासिल की है. पुलिस ने मोहाली में खरड़ के अर्बन होम्ज-2 में स्थित गैवी के किराया के फ्लैट से 1.25 किलो हेरोइन (1.25 kg of heroin) बरामद की है. इसके अलावा उसके अलग-अलग ठिकानों से 3 पिस्टल (3 pistols) जिनमें से एक 30 कैलिबर चीनी पिस्टल और दो 32 कैलिबर पिस्टल और 23 जिंदा कारतूस भी बरामद किये गए हैं.

वाछिंत गैंगस्टर जैपाल के करीबी सहयोगी गैवी सिंह उर्फ विजय उर्फ ज्ञानी को 26 अप्रैल को झारखंड के सराए किला खरसावा जिले से पंजाब पुलिस के संगठित अपराध कंट्रोल यूनिट (Punjab Police's Organized Crime Control Unit) (ओेकू) और एसएएस नगर पुलिस (SAS city police) ने गिरफ्तार किया था.

हथियार और हेरोइन के अलावा तीन गाड़ियां भी जब्त

डीजीपी दिनकर गुप्ता (DGP Dinkar Gupta) ने बताया कि आरोपियों से टोयोटा फाच्र्यूनर, महिंद्रा स्कार्पियो और हुंडई वर्ना समेत तीन वाहन भी बरामद किये गए हैं जो नशों की तस्करी के लिए इस्तेमाल किये जाते थे. डीजीपी ने बताया सैमुअल जोकि जमशेदपुर में गैवी के साथ रह रहा था, गैवी की गिरफ्तारी से पहले दिल्ली फरार होने में सफल हो गया था. उन्होंने आगे बताया कि सैमुअल पाकिस्तान (Pakistan) से लाई हेरोइन के वितरण का काम संभाल रहा था.
500 किलो से अधिक हेरोइन की कर चुका है तस्करी

डीजीपी ने कहा कि चल रही जांच के दौरान गैवी ने खुलासा किया कि उसने पिछले ढाई सालों के दौरान पाकिस्तान से हथियारों समेत 500 किलो से अधिक हेरोइन की तस्करी की है. इन हथियारों और हेरोइन की सप्लाई पंजाब, दिल्ली और जम्मू कश्मीर (Punjab, Delhi and Jammu and Kashmir) के राज्यों में की जाती थी।. गैवी ने बताया कि भारत-पाक सरहद (Indo-Pak border) पर एक स्मगलिंग बुनियादी ढांचा मौजूद है जिसके द्वारा बहुत से पाकिस्तानी तस्कर भारत में हथियारों और नशे की तस्करी करते हैं. गैवी के द्वारा हवाला रूट या फिर नई दिल्ली स्थित आयात/निर्यात कंपनियों के द्वारा भारत, पाकिस्तान और अफगानिस्तान (Afghanistan) स्थित व्यक्तियों और संस्थाओं के साथ बड़ी संख्या में वित्तीय लेन-देन भी किया जाता था जिसकी गहराई से जांच की जा रही है.

तरनतारन जिले के हैं आरोपी



गिरफ्तार किये व्यक्तियों की पहचान करनबीर सिंह निवासी गांव अकबरपुरा, हरमनजीत सिंह वासी ग्राम जोहला, गुरजसप्रीत सिंह वासी गांव बठल भाई के और रवीन्द्र इकबाल सिंह निवासी हंसलावाला (यह सारे गांव जिला तरनतारन से सम्बन्धित हैं) और सेमूअल उर्फ सेम निवासी फिरोजपुर के तौर पर की गई है. सभी आरोपियों के खिलाफ पंजाब के अलग-अलग जिलों में कई अपराधिक केस दर्ज हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज