कर-नाटक: 5 और बागी विधायक विधानसभा स्पीकर के खिलाफ पहुंचे सुप्रीम कोर्ट

कर्नाटक में लगातार राजनीतिक गहमागहमी जारी है सूत्रों के मुताबिक शनिवार को चार और कांग्रेस-जनता दल (सेकुलर) के विधायकों ने विधानसभा अध्यक्ष केआर रमेश कुमार के खिलाफ अपना इस्तीफा स्वीकार नहीं करने के लिए याचिका दायर की है.

News18Hindi
Updated: July 13, 2019, 7:08 PM IST
कर-नाटक: 5 और बागी विधायक विधानसभा स्पीकर के खिलाफ पहुंचे सुप्रीम कोर्ट
कर्नाटक में लगातार राजनीतिक गहमागहमी जारी है सूत्रों के मुताबिक शनिवार को चार और कांग्रेस-जनता दल (सेकुलर) के विधायकों ने विधानसभा अध्यक्ष केआर रमेश कुमार के खिलाफ अपना इस्तीफा स्वीकार नहीं करने के लिए याचिका दायर की है.
News18Hindi
Updated: July 13, 2019, 7:08 PM IST
कर्नाटक में लगातार राजनीतिक गहमागहमी जारी है. सूत्रों के मुताबिक शनिवार को चार और कांग्रेस-जनता दल (सेकुलर) के विधायकों ने विधानसभा अध्यक्ष केआर रमेश कुमार के खिलाफ अपना इस्तीफा स्वीकार नहीं करने के लिए याचिका दायर की है.

पांच विधायकों में आनंद सिंह, मुनिरत्न, रोशन बेग, एमटीबी नागराज और के सुधाकर हैं. उन्होंने 10 अन्य बागी विधायकों की पहले से दायर की हुई अर्जी पर लंबित आवेदन में प्रत्यारोप की मांग की है. जिस पर मंगलवार को सुनवाई होनी है.



सुप्रीम कोर्ट ने कुमार को निर्देश दिया है कि वे 10 विधायकों की अयोग्यता या इस्तीफे पर कोई फैसला न लें. जिन्होंने पहले 16 जुलाई तक अदालत में संपर्क किया था. इन पांच विधायकों के साथ अब सुप्रीम कोर्ट में कुल विधायकों की संख्या अब तक 15 हो गई है.

हालांकि, शनिवार को नागराज ने पार्टी नेता डीके शिवकुमार से मुलाकात के बाद अपने इस्तीफे पर पुनर्विचार करने का संकेत दिया. वहीं कर्नाटक के बीजेपी प्रमुख बीएस येदियुरप्पा ने पुष्टि की है कि पांच और विधायकों ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है.

कुमारस्वामी बोले- सदन में विश्वास मत की मांग करेंगे
मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने विधानसभा में एक दिन पहले कहा कि वह सदन में विश्वास मत की मांग करेंगे, सत्तारूढ़ गठबंधन ने बागी विधायकों तक पहुंचने के प्रयास तेज कर दिए हैं. बता दें सिंह ने 1 जुलाई को मुनिरत्न, 6 जुलाई को बेग और 10 जुलाई को नागराज और सुधाकर ने इस्तीफा दे दिया था.

बता दें कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन की 13 महीने की सरकार में नागराज हाउसिंग मिनिस्टर के तौर पर काम कर रहे हैं. उन्हें कैबिनेट में फेरबदल के बाद 22 दिसंबर को मंत्री बनाया गया था.
Loading...

हालांकि चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली तीन-न्यायाधीशों की पीठ ने स्पीकर को निर्देश दिया कि वे 10 बागी विधायकों को अपने इस्तीफ़े को फिर से भेजने और 11 जुलाई को उन पर निर्णय लेने की अनुमति दें. उन्होंने 12 जुलाई को आदेश दिया कि 16 जुलाई तक यथास्थिति बनाए रखें. इसके मामले के आगे की सुनवाई के बाद बाद फैसला लिया जाएगा.

येदियुरप्पा बोले- विपक्ष अविश्वास प्रस्ताव के लिए तैयार

वहीं भारतीय जनता पार्टी की कर्नाटक इकाई के अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा ने शनिवार को कहा कि विपक्ष अविश्वास प्रस्ताव के लिए तैयार है. शुक्रवार को ही राज्य के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने कहा कि वह सदन में विश्वासमत हासिल करना चाहते हैं. कुमारस्वामी ने कहा कि उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष केआर रमेश कुमार से इसके लिए समय तय करने का अनुरोध किया है.

ये भी पढ़ें-
बंगले में जाते ही क्यों पंखे, टाइल्स बदलवाते हैं अधिकारी?

अविश्वास प्रस्ताव पर बीएस येदियुरप्पा बोले- हम हैं तैयार
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...