अपना शहर चुनें

States

बंगाल में 5 परिवर्तन यात्रा निकालेगी बीजेपी, 11 फरवरी को कूचबिहार में होंगे अमित शाह

कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि जल्द ही बाकी तीन यात्राओं से जुड़ी जानकारियों को सार्वजनिक किया जाएगा. फाइल फोटो
कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि जल्द ही बाकी तीन यात्राओं से जुड़ी जानकारियों को सार्वजनिक किया जाएगा. फाइल फोटो

West Bengal Assembly Election 2021: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) 11 फरवरी को पश्चिम बंगाल (West Bengal) के कूच बिहार (Cooch Behar) में परिवर्तन यात्रा को हरी झंडी दिखाएंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 3, 2021, 6:21 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव (West Bengal Assembly Election 2021) के लिए बीजेपी ने अपनी तैयारी तेज कर दी है. बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijaywargiya) ने मंगलवार को ANI से बातचीत में कहा कि राज्य में पांच परिवर्तन यात्राएं निकाली जाएंगी और 6 फरवरी को बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) झंडी दिखाकर रवाना करेंगे. इसके बाद 11 फरवरी को गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) कूचबिहार से एक परिवर्तन यात्रा की शुरुआत करेंगे. केंद्र की सत्ताधारी पार्टी बीजेपी ने अभी तक दो यात्राओं की तैयारी की है. विजयवर्गीय ने कहा कि जल्द ही बाकी तीन यात्राओं से जुड़ी जानकारियों को सार्वजनिक किया जाएगा. इससे पहले बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष (Dilip Ghosh) ने अपने आवास पर पार्टी की कोर कमिटी के नेताओं के साथ बैठक की. बैठक में सुवेन्दु अधिकारी, कैलाश विजयवर्गीय और मुकुल रॉय जैसे नेता शामिल हुए.

बता दें कि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी पूरी कमर कस चुकी है. बीजेपी नेता राज्‍य का लगातार दौरा कर रहे हैं. हालांकि गृह मंत्री अमित शाह का हालिया बंगाल दौरान रद्द हो गया था, लेकिन उनकी जगह केंद्रीय मंत्री स्‍मृति ईरानी हावड़ा पहुंचीं और वहां एक रैली को संबोधित किया. इस दौरान उन्‍होंने पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) और उनकी सरकार पर जमकर निशाना साधा. स्‍मृति ईरानी ने अपना भाषण बांग्‍ला में दिया. उन्‍होंने रैली में साफतौर पर कहा, 'दीदी को जय श्रीराम से बैर है, लेकिन यहां रामराज स्‍थापित होगा.'





हावड़ा में रैली के दौरान स्‍मृति ईरानी के साथ ही बंगाल बीजेपी प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय और बंगाल बीजेपी प्रमुख दिलीप घोष भी मौजूद रहे. इस दौरान स्‍मृति ईरानी ने ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए कहा कि आपने राम को त्याग दिया है. लेकिन इस बार राज्‍य में रामराज स्थापित होगा. दीदी टीएमसी इस बार जाने वाली है और बीजेपी आने वाली है.
2019 के लोकसभा चुनाव के बाद से ही पश्चिम बंगाल की राजनीति उथल पुथल के दौर से गुजर रही है. प्रदेश में राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) से लेकर कोविड-19 महामारी के आर्थिक प्रभाव तक पर विवाद है.

ऐसे समय में इस साल अप्रैल-मई में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) और बीजेपी अपनी-अपनी रणनीतियां बनाने और उनमें अमल करने में जुटे हुए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज