गुजरात में मूसलाधार बारिश से बाढ़ जैसे हालात, सूरत और वडोदरा में सड़कें डूबीं, घरों में घुसा पानी

गुजरात में मूसलाधार बारिश से बाढ़ जैसे हालात, सूरत और वडोदरा में सड़कें डूबीं, घरों में घुसा पानी
गुजरात में तेज बारिश से बढ़ा बाढ़ का खतरा

Flood Alert in Gujarat: मौसम विभाग (Meteorological Department) ने आगामी तीन दिनों तक वडोदरा (Vadodara) में भारी बारिश होने की चेतावनी दी है.​ मौसम विभाग के इस अलर्ट के बाद वडोदरा में बाढ़ का संकट गहरा गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 16, 2020, 1:28 PM IST
  • Share this:
सूरत. गुजरात (Gujarat) में पिछले तीन दिनों से हो रही जोरदार बारिश (Rain) के चलते कई शहरों में बाढ़ (Flood) का खतरा बढ़ गया है. सूरत (Surat) में जहां बाढ़ के हालात बन गए हैं, तो वहीं वडोदरा (Vadodara) शहर के अंदर भी पानी भर गया है. शहर के ज्यादातर इलाकों में एक से डेढ़ फुट तक पानी भर गया है. शहर के बीच से निकलने वाली विश्वामित्र नदी का जलस्तर जहां 16 फीट को पार कर गया है, वहीं आजवा बांध का जलस्तर 200 फीट को पार कर गया है. मौसम विभाग ने आगामी तीन दिनों में वडोदरा में भारी बारिश होने की चेतावनी दी है.​ मौसम विभाग के इस अलर्ट के बाद वडोदरा में बाढ़ का संकट गहरा गया है.

गुजरात की डायमंड सिटी सूरत में ​भी पिछले तीन दिन से लगातार बारिश हो रही है. लगातार तेज बारिश होने के कारण शहर में बाढ़ के हालात बन गए हैं. शहर के निचले इलाकों जैसे लिंबायत, बमरोली, सरथाणा और परवत पाटिया से तो लोगों को बाहर निकाल लिया गया है. तेज बारिश का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इन इलाकों में 5 से 6 फीट तक पानी भर चुका है.

सूरत के ज्यादातर इलाकों की बिल्डिंग के ग्राउंड फ्लोर पूरी तरह से डूब चुके हैं. शहर का सबसे बड़ा उकाई डैम पानी से पूरी तरह से भर चुका है. ऐसे में अगर डैम का पानी छोड़ा गया तो शहर में ज्यादातर इलाकों में पानी भरने का खतरा और भी ज्यादा बढ़ जाएगा. बता दें कि सूरत शहर तापी नदी के किनारे पर है. ऐसे में अगर डैम का पानी छोड़ा गया तो तापी नदी का जलस्तर बढ़ जाएगा और शहर में पानी भारने की संभावना बढ़ जाएगी.



इसे भी पढ़ें :- Rajasthan: मूसलाधार बारिश से थम गया जयपुर, नदी में तब्‍दील हुई सड़कें, देखें PHOTOS
अगले चार दिनों तक भारी बारिश का अलर्ट
मौसम विभाग के मुताबिक गुजरात और उसके आसपास के इलाकों में अभी और बारिश होगी. मौसम विभाग ने साफ किया है कि अगले चार दिनों तक इसी तरह से भारी बारिश होती रहेगी. बता दें कि अमरेली के बाबरा तहसील के दरेड में एक घंटे के अंदर दो इंच बारिश होने से सड़कों पर लबालब पानी भर गया. ऐसी ही स्थिति राजकोट, गिर सोमनाथ और भावनगर में भी देखने को मिली.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज