जेटली ने पूछा - राजीव सरकार की ईमानदारी पर सवाल उठने से क्यों बौखला रहे हैं राहुल

वित्त मंत्री ने एक के बाद एक ट्वीट कर बोफोर्स घोटाले से लेकर पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के शासनकाल पर सियासी हमला किया. डॉ. मनमोहन सिंह के कार्यकाल को उन्होंने नीतिगत निर्णय लेने में अपाहिज और भ्रष्टाचार में लिप्त शासनकाल करार दिया.

News18Hindi
Updated: May 5, 2019, 10:52 PM IST
जेटली ने पूछा - राजीव सरकार की ईमानदारी पर सवाल उठने से क्यों बौखला रहे हैं राहुल
अरुण जेटली ने एक के बाद एक कई ट्वीट कर कांग्रेस और पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी पर सियासी हमला किया.
News18Hindi
Updated: May 5, 2019, 10:52 PM IST
पूर्व पीएम राजीव गांधी को भ्रष्टाचारी नंबर 1 कहने को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर करार हमला किया. इसके बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने एक के बाद एक कई ट्वीट कर राहुल गांधी और कांग्रेस पर पलटवार किया. उन्होंने आश्चर्य जताया कि उनके पिता की सरकार की ईमानदारी पर सवाल उठाने से कांग्रेस अध्यक्ष इतनी बुरी तरह बौखला क्यों रहे हैं.

जेटली ने लिखा, 'राजीव गांधी सरकार की ईमानदारी पर सवाल उठने से राहुल गांधी क्यों बौखला गए हैं? क्वात्रोची को बोफोर्स सौदे में रिश्वत क्यों दी गई? ये 'क्यू' कनेक्शन कौन है? इन पर वह जवाब क्यों नहीं देते हैं? इन पर कभी कोई जवाब नहीं आता है.' बता दें कि इटालियन कारोबारी क्वात्रोची पर बोफोर्स सौदे में बतौर बिचौलिया घूस लेने का आरोप है. कहा जाता है कि वह गांधी परिवार खासकर यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी का काफी करीबी था.

ये भी पढ़ें: कांग्रेस पर बरसे पीएम मोदी, कहा- एमपी में चल रही है ढाई सीएम की सरकार

आरोप है कि स्वीडन की आयुध निर्माता कंपनी ने बोफोर्स सौदे में पूर्व पीएम राजीव गांधी को भारी-भरकम घूस दी थी. हालांकि, इस मामले में दिल्ली हाईकोर्ट कह चुका है कि राजीव गांधी के किसी भी तरह की घूस लेने का कोई सुबूत नहीं है. 1991 में तमिलनाडु के पेरम्बदूर में आत्मघाती हमले में उनकी मौत हो गई थी.

ये भी पढ़ें: 61 कांग्रेसी वर्कर BJP में शामिल, CM के सामने सिंघी राम के नेतृत्व में जताया विश्वास

जेटली ने कहा, 'वंशवादी लोग भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जैसे व्यक्ति की ईमानदारी पर जब चाहे हमला कर सकते हैं. उन्हें क्या लगता है कि वंशवादियों को किसी बात का जवाब नहीं देना होगा?' यूपी में शनिवार को एक रैली में पीएम मोदी ने राहुल पर हमला करते हुए कहा था कि उनके पिता को उनके दरबारियों ने मिस्टर क्लीन कहकर खूब प्रचारित किया, लेकिन उनके जीवन का अंत भ्रष्टाचारी नंबर 1 के रूप में हुआ.

ये भी पढ़ें: टीपू सुल्तान की तारीफ में पाक PM के ट्वीट पर बीजेपी-कांग्रेस में घमासान
जेटली ने अपने ट्वीट में पूर्व पीएम इंदिरा गांधी और आपातकाल में उनकी भूमिका के साथ ही जून, 1984 में स्वर्ण मंदिर पर सेना के ऑपरेशन ब्लू स्टार का भी जिक्र किया. इसके बाद अक्टूबर, 1984 में ही उनके सिख अंगरक्षकों ने उनकी हत्या कर दी थी. जेटली ने लिखा, 'इंदिरा गांधी की भी हत्या की गई. आज भी कांग्रेस से आपातकाल और ऑपरेशन ब्लू स्टार पर सवाल किए जाते हैं.'

जेटली ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की उस टिप्पणी पर भी पलटवार किया, जिसमें उन्होंने कहा था कि देश आर्थिक संकट की ओर बढ़ रहा है. जेटली ने कहा कि जब एक अर्थशास्त्री राजनेता बन जाता है तो वह अर्थव्यवस्था और राजनीति दोनों का ज्ञान खो देता है. डॉ. मनमोहन सिंह ने 2014 में देश को आर्थिक संकट में छोड़ा था. उनका शासनकाल नीतिगत फैसले लेने में अपाहिज और भ्रष्टाचार में डूबा हुआ रहा. वह संसद में अपनी पार्टी को सबसे निचले स्तर पर ले आए. आज पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था में तब्दील हो चुका है.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsAppअपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...