लाइव टीवी

कोरोना मरीजों ने ऑर्डर किया तंदूरी चिकन-बिरयानी तो वार्ड तक पहुंच गया डिलीवरी मैन

News18Hindi
Updated: May 20, 2020, 9:53 PM IST
कोरोना मरीजों ने ऑर्डर किया तंदूरी चिकन-बिरयानी तो वार्ड तक पहुंच गया डिलीवरी मैन
एक डिलीवरी मैन खाना डिलीवर करने को कोविड-19 वॉर्ड में घुसने लगा (सांकेतिक फोटो)

जब शख्स ने वॉर्ड में घुसने की कोशिश की तो सुरक्षाकर्मियों (Security Personnel) ने उसे रोक दिया. उन्होंने उससे पूछताछ की तो पता चला कि वह डिलीवरी मैन चार लोगों को तंदूरी चिकन और बिरयानी (tandoori chicken and biryani) देने जा रहा था.

  • Share this:
सलेम. तमिलनाडु (Tamil Nadu) के सलेम गवर्नमेंट मोहन कुमारमंगलम मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (SGMKMCH) में कोरोना वायरस से (Covid-19) संक्रमित मरीजों को केवल शाकाहारी भोजन दिया जा रहा है. हालांकि  मंगलवार शाम इनमें से चार मरीज़ों को मांसाहारी भोजन (Non-veg Food) की तलब हुई. उन्होंने एक फूड डिलीवरी ऐप पर तंदूरी चिकन और बिरयानी ऑर्डर कर दी और धैर्य बनाते हुए अपने ऑर्डर के डिलीवर होने का इंतजार करने लगे.

ऑर्डर एक्सेप्ट हुआ... खाना तैयार हुआ... और एक डिलीवरी मैन ने खाना उठाया और ग्राहकों की लोकेशन के लिए निकल पड़ा.

कोविड-19 आइसोलेशन वॉर्ड पर सुरक्षाकर्मियों ने रोका तो सामने आया मसला
थोड़ी ही देर में वह SGMKMCH पहुंच गया. ऐप पर दिख रही लोकेशन के मुताबिक उसे एक कोविड-19 आइसोलेशन वॉर्ड में जाना था, जहां से खाने का ऑर्डर दिया गया था. जब शख्स ने वॉर्ड में घुसने की कोशिश की तो सुरक्षाकर्मियों ने उसे रोक दिया. उन्होंने उससे पूछताछ की तो पता चला कि वह डिलीवरी मैन चार लोगों को तंदूरी चिकन और बिरयानी देने जा रहा था.



उन्होंने अस्पताल के डीन डॉ. आर बालाजीनाथन और अन्य डॉक्टरों को इसके बारे में जानकारी दी. डॉ. बालाजीनाथन और अन्य लोगों ने डिलीवरी मैन से पूछा कि किसने खाना ऑर्डर किया था.



डॉक्टरों ने कोरोना मरीजों को नॉनवेज न खाने की हिदायत भी दी
डिलीवरी मैन ने उन्हें बताया कि उसे पता नहीं था कि कोविड-19 रोगियों ने भोजन का ऑर्डर दिया था. एक डॉक्टर ने कहा, "उस आदमी ने कहा कि वह ऐप पर दिखाई गई ग्राहक की लोकेशन पर जा रहा था, बिना यह जाने कि वह कोविड-19 वार्ड में घुस रहा है."

डॉक्टरों ने चार कोविड-19 रोगियों से भी पूछताछ की. उन्होंने तंदूरी चिकन और बिरयानी का आर्डर देने की बात स्वीकार कर ली. डॉक्टरों ने मरीजों को सलाह दी कि जब तक उन्हें अस्पताल से छुट्टी न मिले तब तक वे नॉन-वेज खाना न खाएं. उन्होंने उन्हें केवल प्रोटीन युक्त शाकाहारी भोजन लेने की सलाह भी दी.

डॉक्टरों की सलाह पर डिलीवरी मैन ने अस्पताल छोड़ दिया. इस तरह से फूड डिलीवरी सफल नहीं हो पाई.

यह भी पढ़ें: जेपी अस्पताल में डॉक्टरों का चिल आउट, इस गाने पर थिरकते नजर आए corona warriors

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 20, 2020, 9:03 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading