• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • LAC पर तनाव की बीच आज Brics की बैठक में आमने-सामने होंगे चीन और भारतीय विदेश मंत्री

LAC पर तनाव की बीच आज Brics की बैठक में आमने-सामने होंगे चीन और भारतीय विदेश मंत्री

इतना हुआ व्यापार घाटा: अप्रैल से अगस्त 2020 के बीच भारत और चीन के बीच होने वाला व्यापार घाटा सिर्फ 12.6 अरब डॉलर (करीब 93 हजार करोड़ रुपये) का रह गया. वित्त वर्ष 2019-20 की इसी अवधि में यह घाटा 22.6 अरब डॉलर का था. इसके भी पहले यानी वित्त वर्ष 2018-19 में भारत का चीन से व्यापार घाटा 23.5 अरब डॉलर का था.

इतना हुआ व्यापार घाटा: अप्रैल से अगस्त 2020 के बीच भारत और चीन के बीच होने वाला व्यापार घाटा सिर्फ 12.6 अरब डॉलर (करीब 93 हजार करोड़ रुपये) का रह गया. वित्त वर्ष 2019-20 की इसी अवधि में यह घाटा 22.6 अरब डॉलर का था. इसके भी पहले यानी वित्त वर्ष 2018-19 में भारत का चीन से व्यापार घाटा 23.5 अरब डॉलर का था.

Brics देशों की बैठक में पांच देशों के विदेश मंत्री वीडियो बैठक में हिस्सा लेंगे जिसमें भारत और चीन के समकक्ष भी आमने सामने होंगे. वहीं रूस में मौजूद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से भी उनके चीनी समकक्ष ने मिलने की इच्छा जाहिर की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:
    नई दिल्ली. लद्दाख (Ladakh) में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर जारी गतिरोध के बीच  चीन के विदेश मंत्री वांग यी  (Wang Yi) और भारतीय विदेश मंत्री एस. जयशंकर (S Jaishankar) पांच देशों के समूह ब्रिक्स (Bircs) के विदेश मंत्रियों की ऑनलाइन बैठक में शुक्रवार को हिस्सा लेंगे. LAC पर जारी तनाव के बीच यह मुलाकात काफी अहम मानी जा रही है हालांकि यह बैठक वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए होगी.

    चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हुआ चुनयींग ने पत्रकारों को बताया कि चीन के विदेश मंत्री यी ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका (बीआरआईसीएस या ब्रिक्स) के विदेश मंत्रियों की ऑनलाइन बैठक में हिस्सा लेंगे. इस बैठक की मेजबानी रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव करेंगे. हुआ ने कहा कि ब्रिक्स के विदेश मंत्रियों की बैठक अंतरराष्ट्रीय स्थिति तथा ब्रिक्स सहयोग पर केंद्रित होगी.

    पांच देशों के विदेश मंत्रियों की ऑनलाइन बैठक ऐसे समय में हो रही है जब पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में यथास्थिति बदलने की चीन की कोशिश को भारत ने नाकाम कर दिया है. भारतीय सेना ने सोमवार को कहा था कि चीनी सेना ने 29-30 अगस्त की दरमियानी रात को पैंगोंग झील के दक्षिणी तट पर 'एक तरफा तरीके से' यथास्थिति बदलने के लिए 'उकसावे वाली सैन्य गतिविधि' की, लेकिन भारतीय सेना ने इसे नाकाम कर दिया.

    रूस के विदेश मंत्री ने 27 अगस्त को कहा था कि ब्रिक्स समूह के पांच विदेश मंत्री चार सितंबर को ऑनलाइन बैठक करेंगे. इस बैठक में सामयिक अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा तथा पांच देशों के बीच सहयोग पर चर्चा की जाएगी.



    चीन के रक्षा मंत्री ने सीमा पर तनाव के बीच राजनाथ सिंह के साथ बैठक की संभवत: इच्छा जताई
    दूसरी ओर चीन के रक्षा मंत्री वेई फेंगही ने शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की अहम बैठक से इतर भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के साथ बैठक की इच्छा जताई है. इस संबंध में जानकारी रखने वालों ने यह जानकारी गुरुवार को दी. सिंह और वेई दोनों एससीओ विदेश मंत्रियों की बैठक में हिस्सा लेने के लिए फिलहाल रूस की राजधानी मॉस्को में हैं.

    जानकारी के अनुसार चीनी पक्ष ने भारतीय मिशन को दोनों रक्षा मंत्रियों के बीच एक बैठक की अपनी इच्छा से अवगत कराया है. हालांकि इसके बारे में अभी कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है. (भाषा इनपुट के साथ)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज