लाइव टीवी

विदेश सचिव हर्ष श्रृंगला ने बताया, ट्रंप की यात्रा के दौरान भारत-अमेरिका के बीच रक्षा समेत इन 5 मुद्दों पर हुई चर्चा

News18Hindi
Updated: February 25, 2020, 6:45 PM IST
विदेश सचिव हर्ष श्रृंगला ने बताया, ट्रंप की यात्रा के दौरान भारत-अमेरिका के बीच रक्षा समेत इन 5 मुद्दों पर हुई चर्चा
हैदराबाद हाउस में मीटिंग करते पीएम मोदी और डोनाल्ड ट्रंप.

Namaste Trump: विदेश सचिव हर्ष श्रृंगला (Harsh Shringla) ने बताया कि राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप की यात्रा में अब तक भारत और अमेरिका के बीच सुरक्षा (Security), रक्षा (Defence), ऊर्जा (Power), प्रौद्योगिकी (Technology) व दोनों देशों के लोगों के बीच संपर्क को लेकर व्यापक बातचीत हुई है. राष्ट्रपति ट्रंप ने रक्षा क्षेत्र में भारत को उच्च प्राथमिकता (High Priority) देने का अश्वासन दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 25, 2020, 6:45 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप (Donald Trump) 24 फरवरी को दो दिवसीय यात्रा पर भारत पहुंचे थे. वह सीधे गुजरात के अहमदाबाद गए. न्‍यू मोटेरा स्‍टेडियम में नमस्‍ते ट्रंप कार्यक्रम के बाद वह यूपी के आगरा गए, जहां उन्‍होंने परिवार के साथ ताजमहल का दीदार किया. इसे बाद वह दिल्‍ली पहुंचे. उनके साथ पत्‍नी मेलानिया ट्रंप (Melania Trump), बेटी इवांका ट्रंप (Ivanka Trump) और दामाद जैरेड कुशनर (Jared Kushner) भी भारत यात्रा पर आए हैं. ट्रंप की यात्रा के दौरान भारत और अमेरिका (India-US) के बीच रक्षा समेत पांच अहम मुद्दों पर चर्चा हुई.

ट्रंप ने रक्षा क्षेत्र में भारत को उच्‍च प्राथमिकता देने का दिलाया भरोसा
विदेश सचिव हर्ष श्रृंगला (Harsh Shringla) ने बताया कि भारत और अमेरिका के बीच सुरक्षा (Security), रक्षा (Defence), ऊर्जा (Power), प्रौद्योगिकी (Technology) व दोनों देशों के लोगों के बीच संपर्क को लेकर व्यापक बातचीत हुई. राष्ट्रपति ट्रंप ने रक्षा क्षेत्र में भारत को उच्च प्राथमिकता (High Priority) देने का अश्वासन दिया है. श्रृंगला ने बताया कि दोनों देशों ने मादक पदार्थों की तस्करी (Drug Smuggling) और होमलैंड से जुड़े मुद्दे पर कार्यसमूह बनाने का फैसला किया है. ऊर्जा द्विपक्षीय सहयोग के सबसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों में से एक के रूप में सामने आया है.

भारतीय पक्ष ने डोनाल्‍ड ट्रंप के सामने उठाया एच1बी वीजा का मुद्दा



श्रृंगला ने बताया कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने प्रौद्योगिकी, संयुक्त गठजोड़ में भी भारत को उच्च प्रथामिकता देने का आश्वासन दिया है. इस यात्रा के दौरान ट्रंप और पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के बीच 5 घंटे से अधिक समय तक बातचीत हुई. इस दौरान वैश्विक परिप्रेक्ष्य और खासकर हिंद-प्रशांत क्षेत्र (Indo-Pacific Region) में संपर्क के मुद्दे पर भी दोनों के बीच बातचीत हुई. विदेश सचिव ने बताया कि भारत और अमेरिका के बीच पाकिस्तान (Pakistan) को लेकर भी चर्चा हुई. इसके अलावा भारतीय पक्ष ने आईटी क्षेत्र में भारतीय पेशेवरों के योगदान का जिक्र करते हुए एच1बी वीजा (H1B Visa) का मुद्दा भी उठाया.

ट्रंप ने नागरिकता संशोधन कानून को बताया भारत का आंतरिक मुद्दा
ट्रंप ने शाम को देश-दुनिया के पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि हमने आतंकवाद (Terrorism) के मुद्दे पर लंबी बातचीत की. इसमें कोई शक नहीं कि यह बड़ी समस्या है. पीएम मोदी इस पर काम कर रहे हैं. मैंने कहा है कि अमेरिका इस मामले में हर मदद के लिए तैयार है. वहीं, नागरिकता संशोधन कानून (CAA 2019) के सवाल पर ट्रंप ने कहा कि ये भारत का फैसला है. यह भारत का आंतरिक मामला है. भारत इस पर सही फैसला लेगा. पीएम मोदी चाहते हैं कि लोगों को धार्मिक स्वतंत्रता मिले. उन्होंने इस पर कड़ी मेहनत की है. कई देशों की तुलना में भारत में ज्यादा धार्मिक आजादी है.

ये भी पढ़ें:

दुनिया के 30 सबसे प्रदूषित शहरों में 21 भारत के, दिल्‍ली सबसे प्रदूषित राजधानी

गोलीबारी, आगजनी और मौतों के बीच यूं हिंसा की चपेट में आ गई दिल्‍ली

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 25, 2020, 6:45 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर