• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • विदेश सचिव श्रृंगला 2 दिवसीय ब्रिटेन की यात्रा पर, 2030 के रोडमैप पर होगा फोकस

विदेश सचिव श्रृंगला 2 दिवसीय ब्रिटेन की यात्रा पर, 2030 के रोडमैप पर होगा फोकस

विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला दो दिवसीय यात्रा पर ब्रिटेन जा रहे हैं. फाइल फोटो

विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला दो दिवसीय यात्रा पर ब्रिटेन जा रहे हैं. फाइल फोटो

विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला (Foreign secretary Harsh Vardhan Shringla) ब्रिटेन के अपने समकक्ष के साथ पारस्परिक हित के क्षेत्रीय एवं वैश्विक मुद्दों पर चर्चा करेंगे. इसमें भारत (India) और ब्रिटेन (Britain) के बीच रोडमैप को लागू करना और अफगानिस्‍तान (Afghanistan) में विकसित स्थिति भी शामिल हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला (Foreign secretary Harsh Vardhan Shringla ) नई दिल्ली और लंदन के बीच 10 वर्षीय रोपडमैप 2030 के क्रियान्वयन सहित द्विपक्षीय संबंधों को और मजबूत करने के लिए शुक्रवार को यूनाइटेड किंगडम (UK) की दो दिवसीय यात्रा पर जा रहे हैं. विदेश मंत्रालय (Ministry of External Affairs) ने उनकी यात्रा की घोषणा करते हुए कहा कि श्रृंगला ब्रिटेन (Britain) के अपने समकक्ष के साथ पारस्परिक हित के क्षेत्रीय एवं वैश्विक मुद्दों पर चर्चा करेंगे. इसमें भारत और ब्रिटेन के बीच रोडमैप को लागू करना और अफगानिस्‍तान (Afghanistan) में विकसित स्थिति भी शामिल हैं.

    बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके ब्रिटिश समकक्ष बोरिस जॉनसन के बीच एक डिजिटल शिखर सम्मेलन में ‘रोडमैप 2030’ स्वीकार किया गया था, जो द्विपक्षीय संबंधों को एक समग्र रणनीतिक भागीदारी तक ले जाने पर केंद्रित है. दोनों देशों के बीच तैयार किया गया रोडमैप, व्यापार, निवेश, प्रौद्योगिकी, जलवायु और स्वास्थ्य के क्षेत्रों में दोनों देशों के बीच अगले दशक में पुनर्जीवित और गतिशील कनेक्शन की कल्पना करता है. इसके अलावा, योजना का उद्देश्य हिंद महासागर और भारत-प्रशांत क्षेत्रों में भारत-ब्रिटेन रक्षा और सुरक्षा सहयोग को बढ़ावा देना है.

    इसे भी पढ़ें :- क्या सितंबर-अक्टूबर में आएगी कोरोना वायरस की तीसरी लहर? जानें AIIMS निदेशक ने क्या कहा

    विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, यात्रा के दौरान, विदेश सचिव अपने समकक्ष से मुलाकात करेंगे और रोडमैप 2030 के क्रियान्वयन पर विशेष ध्यान देने के साथ ही द्विपक्षीय संबंधों की विस्तृत समीक्षा करेंगे. उन्होंने कहा, वह पारस्परिक हित के क्षेत्रीय एवं वैश्विक मुद्दों पर भी चर्चा करेंगे. ऐसा माना जाता है कि अफगानिस्तान में तेजी से बदल रही स्थिति पर भी श्रृंगला लंदन में बात करेंगे.

    इसे भी पढ़ें :- Zydus Cadila की कोविड वैक्सीन को जल्द मिल सकती है मंजूरी? आज डेटा सौंपेगी कंपनी

    उधर भारतीय नौसेना के साथ अभ्यास के लिए ब्रिटेन से क्वीन एलिजाबेथ स्ट्राइक ग्रुप की एंट्री हो गई है. दोनों सेनाएं सालाना कोंकण अभ्यास में हिस्सा लेंगी. क्वाड और हिंद-प्रशांत महासागर के लिहाज से भी सेनाओं का यह कदम काफी अहम है. अनुमान है कि भारत के साथ यह अभ्यास बंगाल की खाड़ी में होगा. इसके बाद समूह साउथ चाइना सी का रुख करेगा. एक रिपोर्ट के मुताबिक 22-23 जुलाई को होने वाले इस अभ्यास में 12 युद्धपोत, 30 से ज्यादा लड़ाकू विमान, दो पनडुब्बियां और 4500 से ज्यादा जवान भाग लेंगे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज