लाइव टीवी

भारत नहीं आ सकेंगे 15 जनवरी के बाद चीन गए विदेशी: DGCA

News18Hindi
Updated: February 9, 2020, 5:38 PM IST
भारत नहीं आ सकेंगे 15 जनवरी के बाद चीन गए विदेशी: DGCA
चीन में कोरोना वायरस से 700 लोगों की मौत के मद्देनजर महानिदेशालय ने यह निर्देश दिया है. (Photo-AP)

चीन (China) से शुरू हुए कोरोना वायरस (Corona Virus) के प्रकोप ने दुनियाभर में 37,500 से अधिक लोगों को अपनी चपेट में लिया है. वैश्विक स्वास्थ्य अधिकारियों की ओर से रविवार को दिए गए आंकड़ों के मुताबिक चीन में वायरस के चलते 811 मौतें हुईं हैं

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 9, 2020, 5:38 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. नगर विमानन महानिदेशालय ने शनिवार को कहा कि 15 जनवरी के बाद चीन (China) गए विदेशियों को भारत (India) आने की अनुमति नहीं है. चीन में कोरोना वायरस (Corona Virus) से 700 लोगों की मौत के मद्देनजर महानिदेशालय ने यह निर्देश दिया है.

डीजीसीए ने शनिवार को उड़ान कंपनियों को भेजे अपने परिपत्र में एक बार फिर दोहराया कि पांच फरवरी से पहले चीनी नागरिकों को जारी किए गए सभी वीजा निलंबित किए जाते हैं. हालांकि डीजीसीए ने स्पष्ट किया, 'ये वीजा पाबंदियां विमान चालक दल के सदस्यों पर लागू नहीं होतीं, जोकि चीन से आने वाले चीनी या विदेशी नागरिक हो सकते हैं.'

किसी भी तरह से नहीं आ सकते भारत
डीजीसीए ने कहा, '15 जनवरी, 2020 या उसके बाद चीन जाने वाले विदेशियों को भारत-नेपाल, भारत-भूटान, भारत-बांग्लादेश या भारत-म्यांमार भूमि सीमाओं सहित किसी भी हवाई, भूमि या बंदरगाह के जरिए भारत आने की अनुमति नहीं है.'

टीका विकसित करने की हो रही है कोशिश
चीन में महामारी का रूप ले चुके कोरोना वायरस प्रकोप से निपटने के लिए जल्द से जल्द इसका टीका विकसित करने के लिए चलाए जा रहे कई लाख डॉलर के महत्त्वकांक्षी अभियान के तहत अमेरिका से लेकर ऑस्ट्रेलिया तक के वैज्ञानिक नवीनतम प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल कर रहे हैं.

अब तक 37,500 से ज्यादा लोगचीन से शुरू हुए कोरोना वायरस के प्रकोप ने दुनियाभर में 37,500 से अधिक लोगों को अपनी चपेट में लिया है. वैश्विक स्वास्थ्य अधिकारियों की ओर से रविवार को दिए गए आंकड़ों के मुताबिक चीन में वायरस के चलते 811 मौतें हुईं हैं और 37,198 मामलों में संक्रमण की पुष्टि हुई है. इसके अलावा हांगकांग में एक व्यक्ति की मौत समेत 25 मामले सामने आए हैं.

मकाओ में 10 मामलों की जानकारी मिली है. सबसे ज्यादा मौतें मध्य हुबेई प्रांत में हुई हैं जहां इस प्रकार के कोरोना वायरस से हो रही बीमारी का पिछले साल दिसंबर में सबसे पहले पता चला था.

इसके अलावा इस वायरस से दुनियाभर के देशों में सामने आये मामलों की संख्या इस प्रकार है:
जापान:96, सिंगापुर: 40, थाईलैंड: 32, दक्षिण कोरिया: 25, ताइवान : 16, मलेशिया : 16, ऑस्ट्रेलिया: 14, जर्मनी: 14, वियतनाम: 14, अमेरिका: 12, एक व्यक्ति की चीन में मौत, फ्रांस : 11, संयुक्त अरब अमीरात: 7, कनाडा: 6, फिलीपीन: 3 मामले, एक व्यक्ति की मौत, ब्रिटेन: 3, भारत: 3, रूस : 2, इटली: 3, बेल्जियम: 1, नेपाल: 1, श्रीलंका: 1, स्वीडन: 1, स्पेन: 1, कम्बोडिया: 1, फिनलैंड: 1

(भाषा के इनपुट के साथ)

ये भी पढ़ें-
कोरोना वायरस: PM मोदी ने चीनी राष्‍ट्रपति को लिखा पत्र-भारत सहयोग के लिए तैयार

कोरोना वायरस के डर से विमान के क्रू ने किया चीन जाने से इनकार, 171 लोग फंसे

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 9, 2020, 5:00 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर