होम /न्यूज /राष्ट्र /BJP के पूर्व राष्ट्रीय महासचिव राम माधव ने कहा- जल्दबाजी में लिया गया था विभाजन का फैसला

BJP के पूर्व राष्ट्रीय महासचिव राम माधव ने कहा- जल्दबाजी में लिया गया था विभाजन का फैसला

बीजेपी के पूर्व राष्ट्रीय महासचिव राम माधव ने विभाजन को लेकर दिया बड़ा बयान. (Pic Courtesy- Twitter)

बीजेपी के पूर्व राष्ट्रीय महासचिव राम माधव ने विभाजन को लेकर दिया बड़ा बयान. (Pic Courtesy- Twitter)

Chennai News: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के पूर्व राष्ट्रीय महासचिव और लेखक राम माधव (Ram Madhav) का कहना है कि भारत के ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

लेखन राम माधव ने किया विभाग को याद
बीजेपी के पूर्व राष्ट्रीय महासचिव ने कहा जल्दबाजी में लिया गया विभाजन का फैसला
विभाजन से बिखर गया था महात्मा गांधी का सपना- राम माधव

चेन्नई. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के पूर्व राष्ट्रीय महासचिव और लेखक राम माधव ने शनिवार को कहा कि भारत का विभाजन तर्कहीन था और यह जल्दबाजी में लिया गया फैसला था और इससे महात्मा गांधी के सपने बिखर गए, जो राष्ट्र को सांप्रदायिक आधार पर विभाजित करने के खिलाफ थे. भारत के विभाजन के परिणास्वरूप पाकिस्तान अस्तित्व में आया था.

माधव ने कहा कि राष्ट्रपिता के बिल्कुल विपरीत मोहम्मद अली जिन्ना ने एक कट्टर राष्ट्रवादी के रूप में अभियान शुरू किया और अलगाववादी के रूप में अभियान खत्म किया, जिससे गांधी बेहद दुखी हुए. उन्होंने कहा कि गांधी हमेशा हिंदू-मुस्लिम के बीच मजबूत एकता के बड़े हिमायती थे.

लेखक माधव ने अपनी किताब ‘पार्टिशंड फ्रीडम’ के बारे में बताया

‘सत्य ज्योति फिल्म्स’ के टीजी त्यागराजन द्वारा विमोचित अपनी किताब ‘पार्टिशंड फ्रीडम’ के बारे में माधव ने कहा कि जिन्ना का सांप्रदायिक रंग और महात्मा गांधी सहित तत्कालीन नेताओं द्वारा किया गया समझौता देश के लिए एक महंगा सबक रहा है.

ये भी पढ़ें: Video : तमिलनाडु में एक और RSS सदस्य के घर पर हमला, 3 पेट्रोल बम फेंककर हमलावर फरार, CCTV में कैद हुई घटना

तमिलनाडु यंग थिंकर्स फोरम’ और ‘जम्मू कश्मीर स्टडी सेंटर’ के तत्वावधान में आयोजित पुस्तक विमोचन-व्याख्यान चर्चा में माधव ने कहा, ‘‘किताब दो सबक सिखाती है: कभी भी विभाजनकारी और अलगाववादी व्यक्ति के साथ समझौता न करें, और देश की एकता सबसे बड़े बलिदान की मांग करती है.’

Tags: Chennai news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें