असम: पूर्व CM तरुण गोगोई को लाइफ सपोर्ट पर रखा गया, स्वास्थ्य मंत्री ने कहा- अगले 48 घंटे अहम

असम के पूर्व CM तरुण गोगोई
असम के पूर्व CM तरुण गोगोई

असम के पूर्व सीएम तरुण गोगोई (Tarun Gogoi) से मिलने पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हिमांत बिस्वास ने बताया कि उन्हें दिल्ली शिफ्ट नहीं किया जा सकता है. फिलहाल उन्हें वेंटिलेटर पर रखा हुआ है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 21, 2020, 8:04 PM IST
  • Share this:
दिसपुर. असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई की हालत लगातार बिगड़ती जा रही है. बेहद खराब स्वास्थ्य से जूझ रहे गोगोई को लाइफ सपोर्ट पर रखा हुआ है. 86 वर्षीय कांग्रेस नेता को बीते 2 नवंबर को अस्पताल में गंभीर हालत मे भर्ती कराया गया था. गोगोई के शरीर के कई अंग फेल हो चुके हैं.

फिलहाल स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हिमांत बिस्वास, गोगोई से मिलने जीएमसीएच में पहुंचे थे. बिस्वास ने बताया कि पूर्व सीएम की हालत बेहद नाजुक बनी हुई है और उन्हें दिल्ली शिफ्ट नहीं किया जा सकता है. उन्होंन बताया कि अगले 48 घंटे बहुत ही बहुत ही अहम हैं. गोगोई कुछ समय पहले कोरोना वायरस (Corona Virus) की चपेट में भी आ गए थे.

गोगोई को अक्टूबर में बेचैनी की शिकायत हुई थी, जिसके बाद उन्हें गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल के आईसीयू में भर्ती कराया गया था. असम के तीन बार मुख्यमंत्री रह चुके गोगोई को कोविड-19 से उबरने के बाद 25 अक्टूबर को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया था. उन्हें प्लाज्मा थैरेपी दी गई थी और बाद में उनकी हालत स्थिर बनी हुई थी. गोगोई अपने निवास पर 9 डॉक्टरों की टीम की निगरानी में थे.



आईसीयू में एक और बड़े कांग्रेस नेता
वहीं, कोरोना वायरस की चपेट में आने से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल की हालत भी काफी खराब हो गई थी. उन्हें गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया था. इस बात की जानकारी उनके बेटे फैजल पटेल ने ट्वीट के जरिए दी थी. हालांकि, बुधवार को पटेल की बेटी की तरफ से मिली जानकारी के मुताबिक, कांग्रेस नेता की हालत में पहले से थोड़ा सुधार हुआ है. पटेल ने बीते 1 अक्टूबर को घोषणा की थी कि वह कोरोना वायरस की चपेट में आ गए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज