पीएम मोदी की बैठक के बाद बोले जम्मू कश्मीर के पूर्व डिप्टी सीएम, वार्ता में नहीं उठा पाकिस्तान का मुद्दा

पीएम मोदी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में तेजी से होगी परिसीमन की प्रक्रिया ताकि विधानसभा चुनाव हो सके

जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री ताराचंद ने कहा, पीएम नरेंद्रमोदी सबसे जिम्मेदार पद पर हैं, वो अगर जिम्मेदारी से कह रहे हैं तो आश्वासन भी उसी जिम्मेदारी के साथ पूरा करना चाहिए. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को वार्ता में शामिल करें ऐसा कोई मुद्दा बैठक में नहीं उठा है.

  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आवास पर जम्मू-कश्मीर को लेकर तमाम स्थानीय नेताओं के साथ अहम बैठक हुई. तीन घंटे से भी ज्यादा चली इस बैठक में जम्मू-कश्मीर के 8 राजनीतिक दलों के 14 नेता शामिल हुए थे. बैठक के नतीजों के बारे में कोई ठोस जानकारी नहीं मिली है. लेकिन मौटे तौर पर इस बार पर सहमति बनी कि प्रदेश में लोकतांत्रिक प्रक्रिया को बढ़ावा दिया जाए. पीएम मोदी के साथ हुई इस बैठक के बाद जम्मू कश्मीर के पूर्व उपमुख्यमंत्री ताराचंद ने कहा, 'यह लंबी और अच्छे माहौल में हुई. सभी ने अपने मुद्दे रखे, कांग्रेस ने जो मुद्दे तय किए थे उन्हें रखा.'

ताराचंद ने कहा कि पीएम नरेंद्रमोदी सबसे जिम्मेदार पद पर हैं, वो अगर जिम्मेदारी से कह रहे हैं  तो आश्वासन भी उसी जिम्मेदारी के साथ पूरा करना चाहिए. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को वार्ता में शामिल करें ऐसा कोई मुद्दा बैठक में नहीं उठा है.



बैठक के बारे में आगे बोलते हुए कहा, राज्य में जमीन और रोजगार का मुद्दा हल पहले की तरह हो. स्थानीय लोगों को रोजगार मिले और बाहरी लोगों जमीन खरीदने पर रोक लगे. परिसीमन के लिए आयोग काम कर रहा जल्द आयोग काम पूरा करे इस में हस्तक्षेप करने का आश्वासन दिया. उन्होंने बताया कि पीएम नरेंद्र मोदी ने दोबारा बैठक कराने के लिए कोई बात नहीं कही है, लेकिन बैठक बुला सकते है.

बैठक में क्या बोले प्रधानमंत्री मोदी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को कहा कि जम्मू-कश्मीर में परिसीमन की प्रक्रिया तेज गति से पूरी होनी है ताकि वहां विधानसभा चुनाव कराए जा सकें और एक निर्वाचित सरकार का गठन हो सके जो प्रदेश के विकास को मजबूती दे.

जम्मू-कश्मीर के नेताओं के साथ सर्वदलीय बैठक के बाद प्रधानमंत्री ने सिलसिलेवार ट्वीट कर यह भी कहा कि सरकार की प्राथमिकता केंद्रशासित प्रदेश में जमीनी स्तर पर लोकतंत्र को मजबूत करना है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.