अपना शहर चुनें

States

केरल के पूर्व मंत्री इब्राहिम कुंजु फ्लाईओवर भ्रष्टाचार मामले में गिरफ्तार

फाइल फोटोः केरल के मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन Kerala CM Pinrayi Vijayan
फाइल फोटोः केरल के मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन Kerala CM Pinrayi Vijayan

विपक्षी कांग्रेस नीत यूडीएफ (UDF Govt) ने कुंजु की गिरफ्तारी की निंदा करते हुए इसे ‘राजनीति से प्रेरित’ बताया जिसका हिस्सा आईयूएमएल (IUML) है. कांग्रेस नेता रमेश चेन्नीतला (Ramesh Chennithala) ने कहा कि मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन ने 'राजनीतिक प्रतिशोध' के तहत कार्रवाई की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 18, 2020, 11:19 PM IST
  • Share this:
कोच्चि. केरल में सतर्कता और भ्रष्टाचार रोधी ब्यूरो ने कांग्रेस (Congress) के नेतृत्व वाली यूडीएफ की पूर्ववर्ती सरकार (UDF Government) के दौरान एक फ्लाईओवर के निर्माण में कथित भ्रष्टाचार के संबंध में पूर्व मंत्री और आईयूएमएल (IUML) के विधायक वीके इब्राहिम कुंजु (VK Ibrahim Kunju) को बुधवार को गिरफ्तार किया. यह जानकारी आधिकारिक सूत्रों ने दी.

मामले की जांच कर रहे सतर्कता दल ने एक निजी अस्पताल में पूर्व लोक निर्माण विभाग मंत्री कुंजु को गिरफ्तार किया. कुंजु इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती हुए थे.

शहर में पलारीवत्तोम फ्लाईओवर के निर्माण में भ्रष्टाचार से जुड़े मामले में उन्हें आरोपी बताए जाने के आठ महीने बाद यह गिरफ्तारी हुई है.



सतर्कता विभाग ने आरोप लगाया है कि कुंजु ने ठेका हासिल करने वाली कंपनी को ब्याज मुक्त कोष की मंजूरी दी. वर्ष 2016 में इस फ्लाईओवर का उद्घाटन हुआ था और एक साल में ही इसमें दरार दिखने लगी.
कुंजु के पहले इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (IUML) के एक और विधायक को इस महीने गिरफ्तार किया गया था. पुलिस ने सोना आभूषण कारोबार में निवेश के लिए कई लोगों से कथित तौर पर धोखाधड़ी करने के लिए एम सी कमरूद्दीन को गिरफ्तार किया था.

ये भी पढ़ेंः केरल के CM ऑफिस को गोल्ड स्मगलिंग मामले के बारे में पता थाः ED

विपक्षी कांग्रेस नीत यूडीएफ ने कुंजु की गिरफ्तारी की निंदा करते हुए इसे ‘राजनीति से प्रेरित’ बताया जिसका हिस्सा आईयूएमएल है. उसने कहा कि वाम दलों के नेतृत्व वाली सरकार ने भ्रष्टाचार और अनियमितताओं से ध्यान हटाने के लिए कुंजु को गिरफ्तार किया.

ये भी पढ़ेंः केरल में पहली बार मंदिर में तैनात होगा अनुसूचित जनजाति का पुजारी

बाद में एक अदालत ने आईयूएमएल नेता को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया. हालांकि कुंजु अस्पताल में ही रहेंगे.

विपक्ष के नेता रमेश चेन्नीतला (Ramesh Chennithala) ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने ‘राजनीतिक प्रतिशोध’ के तहत यह कार्रवाई की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज