लाइव टीवी

ओडिशा के पूर्व विधायक को हत्या के मामले में किया गिरफ्तार, परिजनों ने की CBI जांच की मांग

News18Hindi
Updated: February 24, 2020, 11:26 AM IST
ओडिशा के पूर्व विधायक को हत्या के मामले में किया गिरफ्तार, परिजनों ने की CBI जांच की मांग
पूर्व विधायक अनूप साई के परिजनों ने की CBI जांच की मांग

पूर्व विधायक अनूप साई (Anup Sai) के परिजनों ने छत्तीसगढ़ पुलिस पर परेशान करने का आरोप लगाया है. उनकी मां, पत्नी, बच्चों, भाई तथा अन्य रिश्तेदारों ने रविवार को झारसुगुड़ा जिले में जिलाधिकारी के कार्यालय के बाहर धरना दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 24, 2020, 11:26 AM IST
  • Share this:
भुवनेश्वर. छत्तीसगढ़ पुलिस (Chhattisgarh police) द्वारा गिरफ्तार किए गए ओडिशा के पूर्व विधायक अनूप साई (Anup Sai) के परिजनों ने मामले की सीबीआई (CBI) जांच की मांग की है. उनका आरोप है कि इस मामले में पुलिस ने पक्षपातपूर्ण तरीके से जांच की है. अनूप पर हत्या का आरोप है. वहीं रायगढ़ पुलिस ने अपने पर लगाए आरोपो को खारिज किया है. ओडिशा पुलिस ने साई को 13 फरवरी को गिरफ्तार किया था.

अनूप 2016 के मां-बेटी की हत्या के एक मामले में मुख्य संदिग्ध है. एक अधिकारी ने बताया कि कल्पना दास नाम की महिला और उनकी नाबालिग बेटी को चार पहिया वाहन से कुचल दिया गया था ताकि उनकी पहचान नहीं हो सके. साई के वाहन चालक वर्धन टोप्पो को भी गिरफ्तार कर लिया गया है.

परिजनों ने परेशान करने का आरोप
साई के परिजनों ने छत्तीसगढ़ पुलिस पर परेशान करने का आरोप लगाया है. उनकी मां, पत्नी, बच्चों, भाई तथा अन्य रिश्तेदारों ने रविवार को झारसुगुड़ा जिले में जिलाधिकारी के कार्यालय के बाहर धरना दिया. हालांकि जिलाधिकारी एस.के. सामल के आश्वासन के बाद धरना खत्म हो गया. साई के भाई प्रमोद ने कहा, 'हमें धमकियां मिल रहीं थी जिसके कारण मेरे भाई ने मजबूरन अपराध स्वीकार किया. हम मामले की सीबीआई जांच की मांग करते हैं.'



गिरफ्तारी के अध्यक्ष पद से हटाया
गौरतलब है कि झारसुगुड़ा जिला के ब्रजराजनगर विधानसभा क्षेत्र से तीन बार विधायक रहे तथा बीजू जनता दल के नेता साई को बुधवार की रात छत्तीसगढ़ पुलिस की क्राइमब्रांच टीम ने गिरफ्तार कर अपने साथ रायगढ़ ले गई था. एसपी अश्विनी महांती ने पूर्व विधायक साई की गिरफ्तारी की पुष्टि करते हुए बताया कि बुधवार की रात रायगढ़ (छत्तीसगढ़) के एसपी ने इस संबंध में बात की थी और उसे गिरफ्तार करने के लिए कहा.

इसके बाद पुलिस चौकी अधिकारी की मदद से पूर्व विधायक को ब्रजराजनगर के साई मंदिर के समीप से रात करीब 9 बजे गिरफ्तार किया गया. वहीं घटना के बाद बीजद प्रमुख सह मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने अनूप साई को राज्य वेयर हाउस कॉरपोरेशन के अध्यक्ष पद से हटाने के साथ दल से निकाल दिया है.

ये भी पढ़ें: 9 साल के बेटे ने दी अवैध संबंध की पोल खोलने की धमकी तो मां ने घोंट दिया गला

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 24, 2020, 11:26 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर