लाइव टीवी

करतारपुर कॉरिडोर: पहले जत्‍थे में पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी समेत 575 श्रद्धालुओं के नाम- सूत्र

Sandeep Bol | News18Hindi
Updated: October 29, 2019, 10:55 PM IST
करतारपुर कॉरिडोर: पहले जत्‍थे में पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी समेत 575 श्रद्धालुओं के नाम- सूत्र
पूर्व पीएम मनमोहन सिंह समेत कई सांसद और विधायकों करेंगे करतारपुर का दौरा: सूत्र

सरकारी सूत्रों के अनुसार, करतारपुर कॉरिडोर (Kartarpur Corridor) को लेकर भारत ने पाकिस्‍तान (pakistan) के साथ 575 श्रद्धालुओं की लिस्‍ट साझा की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 29, 2019, 10:55 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) 9 नवंबर को करतारपुर कॉरिडोर (Kartarpur Corridor) का उद्घाटन करेंगे. उसके बाद पीएम मोदी पंजाब (Punjab) के गुरदासपुर (Gurudaspur) में डेरा बाबा नानक में सभा को संबोधित करेंगे. सरकारी सूत्रों के अनुसार, भारत ने पाकिस्‍तान के साथ 575 श्रद्धालुओं की लिस्‍ट साझा की है. करतारपुर साहिब का दौरा करने वाले पहले जत्‍थे में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह (former pm manmohan singh), केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी और पंजाब के मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह समेत कई सांसदों और विधायकों के नाम शामिल हैं.

ऐसी जानकारी मिली है कि पाकिस्तान ने एसजीपीसी (शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी) और डीएसजीएमसी (दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी) के प्रतिनिधियों के साथ पंजाब सरकार की अगुवाई वाले समग्र प्रतिनिधिमंडल को 'अखंड पाठ' (पवित्र ग्रंथ का संपूर्ण पाठ) और ननकाना साहिब में 'नगर कीर्तन' आयोजित करने से मना कर दिया था.

31 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल को नहीं दिया वीजा
ऐसी जानकारी मिली है कि पंजाब सरकार के 31 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल और 450 भारतीय श्रद्धालुओं को वीजा नहीं दिया गया है जबकि भारत सरकार ने पाकिस्तानी उच्चायोग को इसके लिये अनुशंसा की थी. यह भी जानकारी मिली है कि पाकिस्तान ने खुद से श्रद्धालु समूह का नेतृत्व करने के लिये परमजीत सिंह सरना को चुनने का फैसला किया है.

पाकिस्तान ने भारत द्वारा दिए गए उस प्रस्ताव पर अब तक जवाब नहीं दिया है जिसमें 12 नवंबर को ‘गुरुपर्व’ पर यात्रा करने वाले श्रद्धालुओं की संख्या 1974 के प्रोटोकॉल के तहत 3000 की जगह 10 हजार करने को कहा गया था.

पाक ने 80 इमीग्रेशन काउंटर बनाए
बता दें कि पाकिस्‍तान ने गुरुद्वारा दरबार साहिब आने वाले श्रद्धालुओं को बिना वीजा प्रवेश देने के लिए करतारपुर कॉरिडोर में 80 इमीग्रेशन काउंटर बनाए हैं. इन काउंटर्स पर भारत से पाकिस्तान जाने वाले श्रद्धालुओं को क्लीयरेंस मिला करेगा. भारत और पाकिस्‍तान ने अभी पिछले सप्‍ताह ही कॉरिडोर को लेकर एक समझौते पर हस्‍ताक्षर किए थे. इस समझौते के तहत भारतीय श्रद्धालु बिना किसी वीजा के गुरुद्वारा साहिब जा सकेंगे.
Loading...

करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन पीएम मोदी और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान 9 नवंबर को करेंगे. भारत अभी भी पाकिस्‍तान के उस प्रस्ताव पर सहमत नहीं है, जिसके तहत भारतीय श्रद्धालुओं से 20 डॉलर लिए जाएंगे.

श्रद्धालु करतारपुर ले जा सकेंगे अधिकतम 7 किलो सामान और 11 हजार रुपये
करतारपुर स्थित गुरुद्वारा दरबार साहिब जाने वाले श्रद्धालु अपने साथ 7 किलोग्राम भार तक का सामान और अधिक से अधिक 11 हजार रुपये कैश अपने साथ ले जा सकेंगे. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने अपनी डू एंड डोंट्स की एक लिस्ट जारी की है. जिसके मुताबिक 13 साल से कम उम्र के और 75 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को अकेले जाने की अनुमति नहीं होगी.

यह गलियारा भारत के पंजाब में डेरा बाबा नानक गुरुद्वारे को करतारपुर स्थित दरबार साहिब से जोड़ेगा जो अंतरराष्ट्रीय सीमा से महज चार किलोमीटर दूर पाकिस्तान में पंजाब (Punjab) प्रांत के नरोवाल जिले में स्थित है.

सातों दिन सूर्योदय से सूर्यास्त तक खुला रहेगा गुरुद्वारा
दोनों देशों के बीच हुए समझौते के तहत करतारपुर कॉरिडोर सप्‍ताह के सातों दिन सुबह से शाम तक खुला रहेगा. हर रोज लगभग पांच हजार भारतीय सिख पहुंचेंगे और वे उसी दिन वापस आ जाएंगे. श्रद्धालुओं को अपनी पहचान के लिए सिर्फ पासपोर्ट लाना होगा और इस पर मुहर नहीं लगाई जाएगी.

ये भी पढ़ें:

 करतारपुर कॉरिडोर : भारतीय श्रद्धालुओं के लिए Pak ने बनाए 80 इमीग्रेशन काउंटर
श्रद्धालु करतारपुर ले जा सकेंगे अधिकतम 7 Kg सामान और 11 हजार रुपये, पढ़ें नियम
गुरुनानक की 550वीं जयंती पर एयर इंडिया की अनूठी पहल, विमान पर लिखा ‘एक ओंकार’

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 29, 2019, 8:07 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...