ये है फार्मूला जिससे चुना जाएगा कांग्रेस का नया राष्ट्रीय अध्यक्ष

कांग्रेस के संगठन महासचिव के सी वेणुगोपाल ने पार्टी की वर्किंग कमिटी के सभी सदस्यों को नए अध्यक्ष पद के लिए 4-4 नाम बंद लिफाफे में देने को कहा है. कांग्रेस वर्किंग कमेटी के सदस्यों के अलावा महासचिवों से भी इस पर राय मांगी जा रही है.

Ranjeeta Jha
Updated: July 9, 2019, 6:41 PM IST
ये है फार्मूला जिससे चुना जाएगा कांग्रेस का नया राष्ट्रीय अध्यक्ष
ऐसे चुना जाएगा कांग्रेस का नया राष्ट्रीय अध्यक्ष
Ranjeeta Jha
Ranjeeta Jha
Updated: July 9, 2019, 6:41 PM IST
कांग्रेस अध्यक्ष पद को लेकर राहुल गांधी के कड़े रुख, पार्टी नेताओं द्वारा उन्हें मनाने की कवायदों और कुछ वायरल ट्वीट्स के बाद आखिरकार कांग्रेस में नया अध्यक्ष चुनने के लिए अंदरखाने तैयारी शुरू हो गई है. कांग्रेस पार्टी के संगठन महासचिव के सी वेणुगोपाल ने पार्टी की वर्किंग कमेटी के सभी सदस्यों को नए अध्यक्ष पद के लिए चार-चार नाम बंद लिफाफे में देने को कहा है. कांग्रेस वर्किंग कमेटी के सदस्यों के अलावा महासचिवों से भी इस पर राय मांगी जा रही है.

ऐसे सामने आएंगे नाम
सभी महासचिवों ने इस नए फार्मूले के तहत नाम भेजने शुरू कर दिए हैं. जैसे ही सबके नाम संगठन महासचिव के पास पहुंच जाएंगे, संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल सदस्यों द्वारा दिये गए नामों में से सबसे लोकप्रिय चार नामों पर फिर कांग्रेस वर्किंग कमेटी के सदस्यों के साथ चर्चा करेंगे. इस प्रक्रिया के खत्म होते ही, सभी नेताओं को फोन कर राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए सबसे लोकप्रिय नेता का नाम बताने के लिए कहा जायेगा. जैसे ही एक नाम पर सहमति बनेगी, उसके बाद ही कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक बुलाई जाएगी.

बैठकों के नाकाम होने के बाद सुझाया गया नया फार्मूला

दरअसल सीनियर और युवा नेता दो बार मीटिंग कर चुके हैं ताकि किसी नाम पर सहमति बन सके. लेकिन दोनो ही मीटिंग नाकाम रही. उसके बाद इस नए फार्मूले के तहत अध्यक्ष चुनने की प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जा रहा है ताकि ये संदेश जाए कि सबसे बातचीत करके ही पार्टी ने नए अध्यक्ष को चुना है. सोनिया गांधी और राहुल गांधी पहले ही ये साफ कर चुके हैं कि गांधी परिवार से कोई भी व्यक्ति इसमे शामिल नहीं होगा.

देरी को लेकर भी उठ रहे थे सवाल
नए अध्यक्ष के चुनाव में जिस तरह से देरी हो रही है, पार्टी के कई बड़े नेताओं ने इसपर सवाल भी खड़े करने शुरू कर दिए हैं. पहले पंजाब CM कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपने ट्वीट में ये लिखा कि अब देरी न करते हुए पार्टी को एक युवा नेतृत्व मिलना चाहिए. वहीं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कर्ण सिंह ने भी पार्टी के इस दौर को सबसे कठिन बताया. उन्होंने भी पार्टी के उन नेताओं को निशाने पर लिया जो पिछले छह हफ्ते से नए अध्यक्ष को चुनने की प्रक्रिया पर ध्यान न देकर राहुल गांधी को मनाने में लगे रहे.
Loading...

ये भी पढ़ें -

राहुल के इस्तीफे के बाद ये 4 युवा नेता हैं कांग्रेस अध्यक्ष पद की दौड़ में सबसे आगे

एक्टर ने की भविष्यवाणी- New Zealand से होगी जीत, लेकिन World Cup 2019 हार जाएगी टीम India

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 9, 2019, 6:39 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...