अपना शहर चुनें

States

मुंबई: फर्जी आधार कार्ड के साथ चार बांग्लादेशी नागरिक गिरफ्तार

काल्पनिक डर दिखाकर आधार को विफल करना चाहता है एक खास वर्ग: UIDAI
काल्पनिक डर दिखाकर आधार को विफल करना चाहता है एक खास वर्ग: UIDAI

महाराष्ट्र एटीएस टीम ने नवी मुंबई से पांच बांग्लादेशी नागरिकों को गिरफ्तार किया है. चारों गिरफ्तार बांग्लादेशियों के पास से भारतीय आधार कार्ड भी मिले हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 14, 2018, 7:30 PM IST
  • Share this:
महाराष्ट्र एटीएस टीम ने नवी मुंबई से पांच बांग्लादेशी नागरिकों को गिरफ्तार किया है. चारों गिरफ्तार बांग्लादेशियों के पास से भारतीय आधार कार्ड भी मिले हैं. बता दें कि इससे पहले भी बांग्लादेशी नागरिकों से फर्जी आधार कार्ड बरामद होने की कई घटनाएं सामने आईं हैं.
फर्जी आधार कार्ड और अन्य प्रमाण पत्र के आधार पर भारत में अवैध रूप से रह रहे बांग्लादेशियों के पासपोर्ट बनाने वाले कई गिरोह सक्रिय हैं जो अवैध रूप से रह रहे बांग्लादेशियों को भारतीय पासपोर्ट मुहैया कराते हैं. इन पर सरकार उचित ढंग से लगाम नहीं लगा पा रही है क्योंकि ऐसे रैकेट कहां-कहां सक्रिय हैं इसकी जानकारी किसी भी संस्था के लिए निकाल पाना मुश्किल है.

असम में हैं सबसे ज्यादा बांग्लादेशी घुसपैठिए
असम सरकार ने जनवरी में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) का पहला ड्राफ्ट जारी किया था. इसके मुताबिक, सिर्फ 1.9 करोड़ लोगों को ही भारत का वैध नागरिक माना गया है. जबकि, कुल 3.29 करोड़ लोगों ने अप्लाई किया था. मतलब साफ है कि वहां बड़ी संख्या में बांग्लादेशी नागरिक, भारतीय नागरिक बनकर रह रहे हैं.
बताया जा रहा है कि असम में बांग्लादेशी घुसपैठियों को निकालने के लिए सरकार ने एनआरसी ड्राफ्ट जारी किया है. इसके तहत राज्य में रहने वाले भारतीयों की पहचान की जा रही है. सुप्रीम कोर्ट ने इसका आदेश दिया था. इस रजिस्टर में जिन आवेदकों का नाम नहीं है, उनके दस्तावेजों की जांच की जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज