Bihar News: चंपारण में दर्दनाक हादसा, डूबने से चार बच्चों सहित छह की मौत

हादसे के बाद से ही स्‍थानीय लोगों में रोष है. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

हादसे के बाद से ही स्‍थानीय लोगों में रोष है. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

बिहार के पश्चिमी चंपारण में दर्दनाक हादसा हो गया. नरकटियागंज अनुमंडल क्षेत्र के मटियरिया थाना क्षेत्र में हुई इस घटना में पानी से भरे एक गड्ढे में डूबने से 4 बच्चों की मौत हो गई है.

  • Share this:

पटना. बिहार ( Bihar ) के पश्चिमी चंपारण में दर्दनाक हादसा हो गया. नरकटियागंज अनुमंडल क्षेत्र के मटियरिया थाना क्षेत्र में हुई इस घटना में पानी से भरे एक गड्ढे में डूबने से 4 बच्चों की मौत हो गई है. बताया जा रहा है कि मटियरीयी थाना अंतर्गत डरौल  पंचायत  स्थित सुनिल ईट उद्योग हरदी बेलाहवा के द्वारा ईट निर्माण के लिए खुदवाए गए गड्ढा में एक साथ 4 बच्चे डूब गए. गड्ढा करीब आठ से 10 फीट गहरा होने के कारण बरसात के पानी जमा हो गया था, जिसमें गांव के 4 बच्चे खेलते हुए इसमें गिर गए. उनकी डूबने से मौत हो गई. इस घटना से सनसनी फैल गई.

घटना के बाद हरदी बेलहवा गांव में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है, वहीं ईंट बनाने वाले चिमनी मालिक के खिलाफ लोग आक्रोशित हैं, जिसको देखते हुए मटियरिया थाना के अलावा कई थानों की पुलिस गांव में कैम्प कर रही है. ग्रामीणों ने बताया कि घटना शाम को लगभग 4 बजे घटी और चिमनी पर तैनात मुंशी ने घटना को छिपाया, जिसके बाद लगभग सात बजे बच्चों का शव पानी से निकाला गया. वहीं ग्रामीणों ने बताया कि घटना कारण चिमनी मालिक की लापरवाही है. काफी दिन से गड्ढा है, लेकिन चिमनी मालिक द्वारा गड्ढा नहीं भरा गया है. घटनास्थल पर स्थानीय थाना पहुंचकर घटना की छानबीन कर रही है.  ग्रामीणों और अभिभावकों  के बीच चिमनी मालिक सुनील कुमार के प्रति काफी आक्रोश है. जो बच्चे डूबे हैं उनमें कार्तिक कुमार पिता प्रहलाद महतो, गोविंद कुमार पिता जितेंद्र महतो, प्रिंस कुमार पिता मनोज महतो, 4 आदित्य कुमार पिता दिनेश यादव हैं.

नदी में दो युवक डूबे

वहीं बैरिया थाना क्षेत्र के पोखरिया के पास गंडक में स्नान करने गये दो युवक भी डूब गए. घटना मंगलवार शाम की है . थानाध्यक्ष दुष्यंत कुमार ने बताया कि प्रेमचन्द प्रसाद का  पुत्र  राजन व मनोज प्रसाद का पुत्र रौशन  कुमार गंडक मे डूब गये हैं. राजन का शव को ग्रामीण गोताखोरो की मदद से नदी से निकाला गया है. जबकि  रौशन के शव की तलाश की जा रही है. थानाध्यक्ष  दुष्यंत कुमार ने बताया कि एनडीआरएफ की टीम को भी बुलाया जा रहा है.
घटना के बाद पोखरिया गंडक घाट पर लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी है. बताया जाता है कि राजन और रोशन गंडक मे स्नान करने गये थे. तभी उनका पैर फिसल गया और गहरे पानी मे जा पहुंचे. अगल बगल के लोगों ने देखकर चिल्लाते हुए गांव में खबर की. ग्रामीण गोताखोरो से दोनो के शव की तलाशी शुरू की गई. राजन का शव नदी से बरामद कर लिया गया है. जिसे पुलिस  पोस्टमार्टम के लिए जीएमसीएच भेजा है. दूसरे डूबे युवक रौशन के शव की खोजबीन की जा रही है. थानाध्यक्ष  दुष्यंत कुमार ने बताया कि एनडीआरएफ की टीम को भी बुलाया गया है. अब रात होने के कारण सुबह से रौशन के शव की खोजबीन की जाएगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज