चक्रवात अम्फान से हुए नुकसान के मद्देनजर कोलकाता भेजी गईं NDRF की 4 और टीमें

एनडीआरएफ की चार और टीमें कोलकाता भेजी गईं (प्रतीकात्मक तस्वीर)

एनडीआरएफ की चार और टीमें कोलकाता भेजी गईं (प्रतीकात्मक तस्वीर)

एनडीआरएफ (NDRF) प्रमुख ने कहा कि पश्चिम बंगाल को कहीं अधिक नुकसान पहुंचा है. ऐसे में आने वाले दिनों में सर्वेक्षण किए जाने पर ही चक्रवात से हुए नुकसान का आकलन हो पाएगा.

  • Share this:
नई दिल्ली. राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF) प्रमुख एसएन प्रधान ने गुरुवार को कहा कि पश्चिम बंगाल सरकार के अनुरोध पर बल की चार अतिरिक्त टीमें कोलकाता भेजी जा रही हैं और वे वायुसेना के विमान से देर शाम तक वहां पहुंच जाएंगी.

प्रधान ने कहा कि चक्रवात अम्फान के चलते हुए नुकसान के मद्देनजर चेन्नई और पुणे से बल की दो-दो टीमें विमान से कोलकाता भेजी जा रही हैं. उन्होंने कहा कि इन दोनों टीमों के शाम साढ़े चार बजे रवाना होने और रात करीब साढ़े आठ बजे कोलकाता पहुंचने का कार्यक्रम है.

एनडीआरएफ (NDRF)  प्रमुख ने कहा कि चक्रवात का सामना कर रहे राज्यों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक ऐसा लगता है कि ओडिशा के प्रभावित क्षेत्रों में सामान्य स्थिति की ओर जनजीवन के लौटने में 24-48 घंटे लगेंगे, जबकि पश्चिम बंगाल को कहीं अधिक नुकसान पहुंचा है. उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में सर्वेक्षण किये जाने पर ही चक्रवात से हुए नुकसान का आकलन हो पाएगा.

अम्फान से बंगाल में 72 लोगों की मौत
पर साइक्लोन अम्फान (super Cyclone Amphan) से ओडिशा और पश्चिम बंगाल में भारी तबाही हुई है. सैकड़ों घर नष्‍ट हो गए हैं. अकेले पश्चिम बंगाल में ही अब तक 72 लोगों की मौत की पुष्टि हुई है. जबक‍ि तूफान ने ओडिशा में भी भारी तबाही मचाई है. यहां के कई इलाकों में भारी नुकसान पहुंचा है. तूफान बुधवार दोपहर ढाई बजे बीच पश्चिम बंगाल के दीघा और बांग्लादेश के हातिया द्वीप के बीच तट से टकराया (Landfall). इस दौरान ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तटीय क्षेत्रों में बुधवार को 190 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल रही थी. हवा की रफ्तार अब थम गई है और तूफान बांग्लादेश की तरफ बढ़ गया है.

ये भी पढ़ें- बंगाल-ओडिशा में तबाही मचाने के बाद कमजोर हुआ ‘अम्फान’, बांग्लादेश की ओर बढ़ा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज