कर्नाटक: लॉकडाउन के दौरान दिहाड़ी मजदूरों को मुफ्त खाना देगी इंदिरा कैंटीन

कर्नाटक: लॉकडाउन के दौरान दिहाड़ी मजदूरों को मुफ्त खाना देगी इंदिरा कैंटीन
बेंगलुरु स्थित इंदिरा कैंटीन की फाइल फोटो

कर्नाटक (Karnataka) के मुख्यमंत्री बीएस येडियुरप्पा (Chief Minister BS Yediyurappa) ने कहा है कि लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान इंदिरा कैंटीन में पूरे दिन दिहाड़ी मजदूरों को मुफ्त में खाना दिया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 23, 2020, 5:48 PM IST
  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
(रेवती राजीवन)
बेंगलुरु.
सोमवार को राज्य सरकार (State Government) ने घोषणा की है कि राजधानी बेंगलुरु (Bengaluru) सहित कर्नाटक के 9 जिलों में लॉकडाउन (lockdown) के दौरान, कोरोना वायरस (Coronavirus) के प्रसार को रोकने के लिए इंदिरा कैंटीन (Indira canteen) में उन गरीबों को मुफ्त में खाना दिया जाएगा जो रोज मजदूरी करके अपनी रोजी-रोटी जुटाते हैं. यह भी बताया गया कि यहां पर पूरे दिन खाना उपलब्ध रहेगा.

राज्य की सब्सिडी (Subsidy) से संचालित होने वाली 'इंदिरा कैंटीनों' (Indira Canteens) में फिलहाल 5 रुपये में नाश्ता और 10 रुपये में खाना दिया जाता है.

मुख्यमंत्री येडियुरप्पा ने कहा, 'गरीबों को पूरे दिन दिया जाएगा मुफ्त खाना'



मुख्यमंत्री बीएस येडियुरप्पा ने रिपोर्टरों को बताया, "गरीबों के हित में, मुफ्त खाने देने का निर्णय लिया गया है. ऐसे में इंदिरा कैंटीनों (Indira Canteens) में, गरीबों को पूरे दिन मुफ्त खाना दिया जाएगा."



सरकार ने यह निर्णय भी लिया है कि बेंगलुरु (Bengaluru) में 30 बुखार जांचने वाले क्लीनिक (Fever Testing Clinic) भी खोले जाएंगे, जिनमें COVID-19 से संक्रमण के लक्षण वाले रोगियों की प्राथमिक जांच की जा सकेगी.

मुख्यमंत्री येडियुरप्पा ने की प्राइवेट अस्पताल कर्मियों से मुलाकात
येडियुरप्पा, जिन्होंने प्राइवेट अस्पतालों (Private Hospitals) को प्रतिनिधियों से एक मुलाकात भी की, उन्होंने बताया कि प्रतिनिधियों ने उन्हें राज्य में पूरी तरह से लॉकडाउन (Lockdown) लागू किए जाने की सलाह दी है.

स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों ने मैसूर में बेस्ड स्कनरे कंपनी के अधिकारियों से भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत की थी और 1000 वॉलन्टियर्स (Volunteers) को तुरंत उनसे लेने का निर्णय किया है.

राज्य में इंटरनेट की स्पीड बढ़ाने के कदम भी उठाए जाएंगे
स्वास्थ्य मंत्री बी श्रीरामुलु ने कहा है कि सरकार ने 10 लाख मास्क और 5 लाख व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरणों (Personal Safety Kits) की खरीद का कदम भी उठाया है.

चूंकि बहुत से आईटी कर्मचारी (IT Employees) अपने घरों से ही काम कर रहे हैं, ऐसे में सरकार ने कहा है कि राज्य भर में इंटरनेट (Internet) की स्पीड बढ़ाने का कदम भी उठाया जाएगा.

गृहमंत्री ने कहा कि कॉरन्टाइन के दौरान बाहर आने पर होगी 6 महीने की जेल
कर्नाटक के गृह मंत्री बासवराज बोम्मई (Home Minister Basavaraj Bommai) ने कहा है, "भारतीय दंड संहिता की धारा 271 के मुताबिक, अगर कॉरन्टाइन में रखा गया कोई व्यक्ति अपने घर से बाहर निकलता हैं तो उसके खिलाफ मामला दायर किया जाएगा और ऐसे किसी भी व्यक्ति को 6 महीने की जेल होगी."

यह भी पढ़ें: कोरोना जांच के लिए 2 कंपनियों के किट को मिली मंजूरी, लॉकडाउन के कड़े निर्देश
First published: March 23, 2020, 5:48 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading