Assembly Banner 2021

गुजरात के खंभात में बंद के दिन हुई सांप्रदायिक झड़पें, आगजनी की घटनाएं

गुजरात के खंभात में बंद के दौरान सांप्रदायिक हिंसा की खबरें सामने आई हैं (सांकेतिक तस्वीर, News18 क्रिएटिव)

गुजरात के खंभात में बंद के दौरान सांप्रदायिक हिंसा की खबरें सामने आई हैं (सांकेतिक तस्वीर, News18 क्रिएटिव)

अधिकारियों (Officers) ने बताया कि सुबह से ही कस्बे में ज्यादातर स्कूल (School), कॉलेज और बाजार (Market) बंद रहे.

  • Share this:
आणंद (गुजरात). गुजरात (Gujarat) में आणंद जिले (Anand District) के खंभात कस्बे में लगातार तीसरे दिन तनाव बना रहा और भीड़ ने मंगलवार को कुछ हिंदू समुदाय (Hindu Community) के समूहों द्वारा आहूत बंद (Bandh) के दिन सड़क किनारे दो झोपड़ियों और मोटरसाइकिलों को जला दिया.

रविवार को इस कस्बे (Town) में सांप्रदायिक झड़पें (Communal Clashes) हुई थी.

झोपड़ियों और मोटरसाइकिल में लगाई गई आग, 5 लोग हिरासत में
अधिकारियों ने यह जानकारी देते हुए बताया कि सुबह से ही कस्बे में ज्यादातर स्कूल, कॉलेज और बाजार (Market) बंद रहे.
अहमदाबाद रेंज के पुलिस महानिरीक्षक आई के जडेजा ने बताया कि भीड़ ने सड़क किनारे दो झोपड़ियों और कुछ मोटरसाइकिलों में आग लगा दी. उन्होंने बताया कि पुलिस (Police) ने इस घटना के बाद पांच लोगों को हिरासत में लिया.



हिंसा में शामिल लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग को लेकर हुआ था बंद का आह्वान
आईजी ने बताया कि विभिन्न हिंदू संगठनों (Various Hindu Organisations) ने रविवार और सोमवार को हुई हिंसा में शामिल लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग को लेकर बंद का आह्वान किया था. उन्होंने बताया कि कई लोग मंगलवार की दोपहर गवरा चौक पर एकत्र हुए और उन्होंने प्रदर्शन किया.

उन्होंने बताया, ‘‘कुछ प्रदर्शनकारियों ने सड़क किनारे दो झोपड़ियों और कुछ मोटरसाइकिलों (Motorcycles) को जला दिया. हमने पांच संदिग्धों को हिरासत में लिया है.’’

आरएएफ की दो कंपनियां और एसआरपी की चार कंपनियां की गईं तैनात
जडेजा ने बताया कि कस्बे में स्थिति अब नियंत्रण में है और हिंसा के बाद मौके पर पर्याप्त संख्या में पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है. रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ- RAF) की दो कंपनियां और राज्य रिजर्व पुलिस (एसआरपी- SRP) की चार कंपनियों को भी तैनात किया गया है.

प्रत्येक कंपनी में लगभग 80 सशस्त्र कर्मी (Armed Personnel) हैं.

रविवार से अब तक अलग-अलग घटनाओं में 20 से अधिक मकान और वाहन जलाए गए
पुलिस ने 23 फरवरी से आगजनी और पथराव के लिए अब तक 85 लोगों को गिरफ्तार किया है. पुलिस अधिकारियों (Police Officers) के अनुसार कस्बे में रविवार से विभिन्न घटनाओं में भीड़ ने 20 से अधिक मकानों और कई वाहनों को जला दिया.

यह भी पढ़ें- दिल्‍ली हिंसा: अमित शाह बोले- सभी दल मिलकर भय, अफवाहों के माहौल को दूर करें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज