• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • कॉफी से लेकर कार और नाइकी से लेकर स्टेशनरी तक, अभी मुश्किल है ये सब हासिल करना; जानें क्यों

कॉफी से लेकर कार और नाइकी से लेकर स्टेशनरी तक, अभी मुश्किल है ये सब हासिल करना; जानें क्यों

ऐसी कई चीजें हम तक नहीं पहुंच पा रही हैं, जो महामारी से पहले आसानी से उपलब्ध हो जाती थीं. (सांकेतिक तस्वीर)

ऐसी कई चीजें हम तक नहीं पहुंच पा रही हैं, जो महामारी से पहले आसानी से उपलब्ध हो जाती थीं. (सांकेतिक तस्वीर)

Pandemic Side Effects: जानकारों के अनुसार, कई वस्तुओं के मामले में यह स्थिति 2022 तक भी बनी रह सकती है. CNN के बिजनेस रिपोर्टर्स से समझते हैं कि आखिर इस दौरान किन चीजों को खोजना मुश्किल है. साथ ही इसके कारण क्या हैं.

  • Share this:

    नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते पूरी दुनिया प्रभावित हुई है. इसमें संक्रमण से परे दुष्प्रभावों का सामना करने वालों में सप्लाई चेन का नाम भी शामिल है. फिलहाल, ऐसी कई चीजें हम तक नहीं पहुंच पा रही हैं, जो महामारी से पहले आसानी से उपलब्ध हो जाती थीं. इनमें स्कूल में उपयोग होने वाली चीजें, कॉफी, नाइकी ब्रांड के जूते (Nike Shoes) समेत कई आम वस्तुओं का नाम भी शामिल है. जानकारों के अनुसार, कई चीजों के मामले में यह स्थिति 2022 तक भी बनी रह सकती है.

    CNN के बिजनेस रिपोर्टर्स से समझते हैं कि आखिर इस दौरान किन चीजों को खोजना मुश्किल है. साथ ही इसके कारण क्या हैं-

    कार
    मौजूदा दौर में कार खोज रहे लोग जानते हैं कि एक चार पहिया गाड़ी मिलना कितना मुश्किल है. ये हालात जल्दी सुधरने के भी आसार नहीं हैं. गोल्डमैन सैक्स का कहना है कि नई गाड़ियों के मामले में स्थिति के सितंबर तक सुधरने की संभावना नहीं है. साथ ही ये हालात अगले साल भी महामारी से पहले वाली स्थिति के नीचे रह सकते हैं. कंप्यूटर चिप्स की कमी इसका बड़ा कारण मानी जा रही हैं.

    कॉफी
    रोज सुबह कप में नजर आने वाली कॉफी भी सप्लाई में कमी के चलते आने वाले समय में महंगी हो सकती है. इसका बड़ा कारण ब्राजील में खराब मौसम है. पाले के चलते अरैबिका की कीमतें बढ़ी हैं. लेकिन इससे पहले भी खराब मौसम, कोलंबिया में प्रदर्शन और शिपिंग कंटेनर की कीमतें बढ़ने समेत कई कारणों से दरों में इजाफा जारी था.

    कंप्यूटर चिप्स
    फिलहाल, कंप्यूटर चिप्स का अकाल जारी रह सकता है. इंटेल ने इस महीने चेतावनी दी थी कि सेमी कंडक्टर की विश्व स्तर पर कमी 2023 के मध्य तक जारी रह सकती है. इसके चलते ही ऑटो इंडस्ट्री खासी प्रभावित हुई है और कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स की कीमतें बढ़ी हैं.

    जेट ईंधन
    अमेरिका के कई पश्चिमी हवाई अड्डों पर अवकाश यात्रा की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए पर्याप्त जेट ईंधन नहीं है. इसके चलते कई उड़ानें रद्द हो सकती हैं या एयरलाइंस को लंबी दूरी वाली फ्लाइट्स में ईंधन भरवाने के लिए ज्यादा स्टॉप लेने पड़ सकते हैं. टैंक ट्रक के ड्राइवरों की कमी इसका एक बड़ा कारण है. एक इंडस्ट्री ट्रेड समूह के मुताबिक, योग्य ड्राइवरों की कमी के चलते पूरे देश में 20 फीसदी टैंकर खड़े हुए है. गैर स्टेशन भी इस कमी से प्रभावित हो रहे हैं.

    यह भी पढ़ें: मानसून सत्रः पीएम मोदी बोले- विपक्ष द्वारा संसद ना चलने देना संविधान और लोकतंत्र का अपमान

    नाइकी के जूते
    नाइकी के जूते वियतनाम में तैयार होते हैं और कोविड-19 महामारी के चलते कंपनी के स्नीकर्स जल्दी खत्म होने की नौबत आ सकती है. ऐसे में अगर आप नाइकी के जूते खरीदने का मन बना रहे हैं, तो आपको थोड़ी रफ्तार दिखानी होगी. खबर है कि नाइकी के वियतनाम स्थित दो सप्लायर्स ने पहले ही निर्माण कार्य रोक दिया है.

    स्कूल में इस्तेमाल होने वाली चीजें
    अब स्कूल दोबारा खुलने की खबरें सामने आने लगी हैं. लेकिन हो सकता है कि पैरेंट्स को स्नीकर्स, बैग और गैजेट जैसी कई चीजों को खरीदने में परेशानी का सामना करना पड़े. इससे पहले भी इन उत्पादों की सप्लाई काफी सीमित हो रही थी. ऐसे में बढ़ी मांग और शिपमेंट में देरी रिटेल स्तर पर काम को प्रभावित कर सकती है. इस दौरान बैकपैक, स्टेशनरी, खेल के सामान, लैपटॉप और टेबलेट्स हासिल करने में सबसे ज्यादा मुश्किल हो सकती है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज