Home /News /nation /

CDS जनरल बिपिन रावत के हेलिकॉप्टर के साथ आखिर क्या हुआ था, सामने आई ये वजह: सूत्र

CDS जनरल बिपिन रावत के हेलिकॉप्टर के साथ आखिर क्या हुआ था, सामने आई ये वजह: सूत्र

कुन्नूर में आठ दिसंबर को हेलीकॉप्टर के दुर्घटनाग्रस्त होने के कारण भारत के प्रमुख रक्षा अध्यक्ष, उनकी पत्नी और 12 अन्य सैन्यकर्मियों की मौत हो गई थी.

कुन्नूर में आठ दिसंबर को हेलीकॉप्टर के दुर्घटनाग्रस्त होने के कारण भारत के प्रमुख रक्षा अध्यक्ष, उनकी पत्नी और 12 अन्य सैन्यकर्मियों की मौत हो गई थी.

Helicopter Crash : बीती आठ दिसंबर को तमिलनाडु में नीलगिरि की पहाड़ियों में यह हेलिकॉप्टर दुर्घटना हुई थी. इस दुर्घटना के बाद सामने आए वीडियो में देखा गया था कि यह हेलिकॉप्टर बेहद घने बादलों के बीच कम ऊंचाई पर उड़ान भर रहा था. सूत्रों की मानें तो संभवत: मौसम की इसी स्थिति को कहीं जजमेंटल एरर (Judgmental Error) रह गई होगी.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. देश के पहले सीडीएस (chief of Defence Staff) जनरल बिपिन रावत (General Bipin Rawat) का हेलिकॉप्टर खराब मौसम में पायलट की गलती से गिरा होगा. सूत्रों ने बुधवार को इस तरह की संभावना जताई. इस हेलिकॉप्टर दुर्घटना (Helicopter Crash) में जनरल बिपिन रावत (General Bipin Rawat), उनकी पत्नी मधुलिका और 12 जवान मारे गए थे.

    एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, कोयंबटूर के सुलूर वायु सेना अड्‌डे से वेलिंगटन स्थित डिफेंस सर्विसेज कॉलेज (Defence Staff services college) के लिए उड़ा हेलिकॉप्टर सीएफआईटी (Control flight into terrain) के कारण दुर्घटनाग्रस्त हुआ होगा. आईएटीए (International air transport association) के मुताबिक, सीएफआईटी वह स्थिति हैं जब दुर्गम स्थल अथवा खराब मौसम में उड़ रहा विमान या हेलिकॉप्टर अचानक दुर्घटनाग्रस्त हो जाता है. दुर्घटना इतनी औचक होती है कि पूरे नियंत्रण के साथ विमान या हेलिकॉप्टर उड़ा रहे पायलट को खतरे का पूर्व संकेत तक नहीं मिलता.

    अमेरिका का संघीय उड्‌डयन प्रशासन (United State’s Federal Aviation Administration) भी सीएफआईटी (Control flight into terrain) को इसी तरह परिभाषित करता है. सूत्रों के मुताबिक अन्य दुर्घटनाओं और सीएफआईटी में फर्क बस यही होता है कि इसमें उड़ान पर आखिरी मौके तक पूरा नियंत्रण होता है. जहां तक जनरल बिपिन रावत व अन्य को ले जा रहे हेलिकॉप्टर का सवाल है तो उसे कई विशेषज्ञों ने पूरी तरह सुरक्षित माना है.

    गौरतलब है कि बीती आठ दिसंबर को तमिलनाडु में नीलगिरि की पहाड़ियों में यह हेलिकॉप्टर दुर्घटना हुई थी. इस दुर्घटना के बाद सामने आए वीडियो में देखा गया था कि यह हेलिकॉप्टर बेहद घने बादलों के बीच कम ऊंचाई पर उड़ान भर रहा था. सूत्रों की मानें तो संभवत: मौसम की इसी स्थिति को कहीं जजमेंटल एरर (Judgmental Error) रह गई होगी.

    तीनों सेनाओं का संयुक्त जांच दल इस घटना की जांच कर रहा है. इसकी जांच रिेपोर्ट अब तक आई नहीं है. एयर मार्शल मानवेंद्र सिंह इस मामले की जांच कर रहे हैं.

    Tags: Bipin Rawat Helicopter Crash, Helicopter crash, Tamil Nadi Helicopter Crash

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर