लाइव टीवी

सर्जिकल स्ट्राइक को इन्होंने किया था लीड, बताया- कैसे हमारे जेट्स को नहीं पकड़ पाए पाकिस्तानी राडार

News18.com
Updated: February 26, 2019, 5:06 PM IST
सर्जिकल स्ट्राइक को इन्होंने किया था लीड, बताया- कैसे हमारे जेट्स को नहीं पकड़ पाए पाकिस्तानी राडार
लेफ्टिनेंट जनरल डीएस हुड्डा

हुड्डा ने कहा कि पुलवामा हमले के बाद जो हुआ वह उधार था. इस एयर स्ट्राइक से पाकिस्तान को संदेश जाएगा कि भारत अब इससे ज़्यादा और सहन नहीं कर सकता.

  • News18.com
  • Last Updated: February 26, 2019, 5:06 PM IST
  • Share this:
लेफ्टिनेंट जनरल डीएस हुड्डा ने पीओके में किए गए एयरस्ट्राइक के लिए भारत सरकार को मुबारकबाद दी है. 2016 में भारत ने पाकिस्तान में जो सर्जिकल स्ट्राइक किया था डीएस हुड्डा उसके आर्किटेक्ट थे. मंगलवार सुबह इंटेलिजेंस की सहायता से इंडियन फोर्स के 12 मिराज 2000 जेट ने बालाकोट में एक हज़ार किलो का बम गिरा दिया.

विदेश सचिव विजय गोखले ने कहा कि बड़ी संख्या में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादी, ट्रेनर, वरिष्ठ कमांडर्स को यहां पर फिदायीन हमले के लिए ट्रेनिंग दी जा रही थी.

ये भी पढ़ें- 'बेटा CRPF जवान और सुकमा में तैनात है, यह सुनते ही लड़की वाले शादी से कर देते हैं मना'



सीएनएन-न्यूज 18 को दिए इंटरव्यू में हुड्डा ने कहा कि पुलवामा हमले के बाद जो हुआ वह उधार था. इस एयर स्ट्राइक से पाकिस्तान को संदेश जाएगा कि भारत अब इससे ज़्यादा और सहन नहीं कर सकता. उन्होंने कहा, 'एयर स्ट्राइक पूरी तरह से प्रोफेशनल था. इसके अलावा खास रास्तों को अपनाने और उच्च क्षमता वाले जैमर का प्रयोग करने की वजह से हम ऐसा कर पाए हैं और इसीलिए पाकिस्तान के रडार में नहीं आया. भारतीय वायुसेना पाकिस्तानी सेना से तकनीकी रूप से कहीं ज्यादा आगे है.'



हुड्डा ने कहा कि भारत की मिट्टी पर हमला करके किसी को भी यह नहीं सोचना चाहिए कि भारत इसका जवाब नहीं देगा. यहां तक कि उन्होंने कहा कि 2016 में उरी हमले के दौरान भी इस तरह के और भी हमले होने चाहिए थे. हुड्डा ने कहा कि पाकिस्तान और पीओके के बीच तमाम कैंप बने हुए हैं.

ये भी पढ़ें- सरकारी रिकॉर्ड में 'शहीद' नहीं होते सीआरपीएफ और बीएसएफ के जवान

जब उनसे पूछा गया कि जैश-ए-मोहम्मद के केंद्र बहावलपुर में क्यों हमला नहीं किया गया तो उन्होंने कहा कि इसमें जानमाल का नुकसान हो सकता था. प्रेस कांफ्रेंस में विदेश सचिव ने कहा कि जिस टारगेट को चुना गया था उसमें हमारा मकसद था कि नागरिकों को कोई नुकसान न हो. जहां पर स्ट्राइक किया गया है वह घने जंगलों में पहाड़ी के ऊपर बना हुआ था.

पाकिस्तान द्वारा प्रतिक्रिया किए जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि एयर स्ट्राइक करने के बाद भारतीय सेना इस बात के लिए तैयार है.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 26, 2019, 3:39 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading