सुप्रीम कोर्ट में कुछ कोर्ट रूम में शुरू हो सकती है सामान्य सुनवाई

सुप्रीम कोर्ट में कुछ कोर्ट रूम में शुरू हो सकती है सामान्य सुनवाई
शीर्ष अदालत ने कहा कि कुछ कोर्ट रूम में सामान्य तरह से सुनवाई शुरू की जा सकती है (फाइल फोटो)

सर्वोच्च न्यायालय के रजिस्ट्रार (Supreme court registrar) द्वारा भेजी गयी लिखित सूचना के अनुसार समुचित प्राधिकार के निर्णय पर आधारित, यह सुझाव दिया गया है कि प्रायोगिक आधार पर (on an experimental basis) सीमित मामलों को सामान्य ढंग से सुनवाई के लिए सूचीबद्ध (listed) किया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 19, 2020, 11:30 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोविड-19 महामारी (Covid-19 Pandemic) के कारण करीब पांच माह से सीमित कामकाज के बाद उच्चतम न्यायालय (Supreme Court) ने एक सप्ताह के भीतर अदालत कक्षों (court rooms) में सामान्य ढंग से सुनवाई करने का निर्णय किया है. हालांकि यह काम बहुत सीमित ढंग से किया जाएगा. शीर्ष न्यायालय के प्रशासन (administration) ने बार संस्था सुप्रीम कोर्ट एडवोकेट्स आन रिकार्ड एसोसिएशन (SCAORA) को सूचित किया नियमित सुनवाई के लिए बड़े अदालती कक्षों में से तीन को इस समय के भीतर तैयार किया जाएगा. इसमें चिकित्सकीय परामर्श (medical consultation) को ध्यान में रखते हुए निश्चित दूरी एवं अन्य मानकों का ध्यान रखा जाएगा.

सर्वोच्च न्यायालय के रजिस्ट्रार (Supreme court registrar) द्वारा भेजी गयी लिखित सूचना के अनुसार समुचित प्राधिकार के निर्णय पर आधारित, यह सुझाव दिया गया है कि प्रायोगिक आधार पर (on an experimental basis) सीमित मामलों को सामान्य ढंग से सुनवाई के लिए सूचीबद्ध (listed) किया जाएगा. इसके लिए सभी पक्षों से पूर्व अनुमति (prior consent) और उनकी इच्छा लिखित रूप में ली जाएगी.

प्रायोगिक आधार पर 3 बड़े अदालती कक्षों को इसके लिए एक हफ्ते में तैयार किया जाएगा
अठारह अगस्त की तारीख वाली इस लिखित सूचना में कहा गया कि प्रायोगिक आधार पर तीन बड़े अदालती कक्षों को इसके लिए एक सप्ताह के भीतर तैयार किया जाएगा.
इससे पहले उच्चतम न्यायालय ने बताया कि पिछले 100 दिनों में 15,000 से अधिक मामलों की सुनवायी के लिए 1,021 पीठों का गठन किया जिसमें 50,475 अधिवक्ताओं ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये दलील दी या पेश हुए. उच्चतम न्यायालय ने कोविड-19 महामारी के चलते ‘‘अभूतपूर्व’’ चुनौती का सामना किया है. यह जानकारी एक आधिकारिक बयान में दी गई.



यह भी पढ़ें: कोविड-19- कोर्ट की 1021 पीठों ने पिछले 100 दिनों में 15 हजार से अधिक मामले सुने

उच्चतम न्यायालय ने कहा गया है कि उच्चतम न्यायालय की 1,021 पीठों के समक्ष पिछले 100 दिनों के दौरान 15,596 मामले आये जिसमें 587 मुख्य मामले और 434 पुनरीक्षा याचिकाएं शामिल थीं और लगभग 4,300 मामलों का निपटारा किया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज