पूर्व रक्षा मंत्री जॉर्ज फर्नांडिस का 88 साल की उम्र में निधन

फर्नांडिस लंबे समय से बीमार चल रहे थे, वह अलजाइमर से ग्रस्त थे.

News18Hindi
Updated: January 29, 2019, 10:17 AM IST
पूर्व रक्षा मंत्री जॉर्ज फर्नांडिस का 88 साल की उम्र में निधन
पूर्व रक्षा मंत्री जॉर्ज फर्नांडिज (फाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: January 29, 2019, 10:17 AM IST
वाजपेयी सरकार में रक्षा मंत्री रहे जॉर्ज फर्नांडिस का मंगलवार को निधन हो गया. वह 88 साल के थे. पारिवारिक सूत्रों ने उनके निधन की पुष्टि की है. फर्नांडिस लंबे समय से बीमार चल रहे थे, परिवार ने बताया कि फर्नांडिस अल्जाइमर से पीड़ित थे और हाल ही में उन्हें स्वाइन फ्लू हो गया था. स्वास्थ्यगत कारणों के चलते वह लंबे समय से सार्वजनिक जीवन से बाहर थे.

अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार में जॉर्ज फर्नांडिस रक्षा मंत्री रहे. वह 1998 से 2004 के बीच देश रक्षा मंत्री रहे. 2004 में ताबूत घोटाला सामने आने के बाद उन्होंने इस्तीफा दे दिया था. बाद में दो अलग-अलग कमिशन ऑफ इन्क्वायरी में उन्हें दोषमुक्त करार दिया गया था.

जॉर्ज फर्नांडिस: पादरी बनते-बनते कैसे मजदूरों के मसीहा बन गए जॉर्ज?

राज्यसभा सांसद के तौर पर संसद में उनका आखिरी कार्यकाल अगस्त 2009 से जुलाई 2010 तक था.

पीएम मोदी ने ट्विटर पर जताया शोकः



मूलतः मंगलुरु के रहने वाले जॉर्ज फर्नांडिस ने समता पार्टी की स्थापना की थी. वह आपातकाल के खिलाफ आवाज उठाने वाले योद्धा और सिविल राइट्स एक्टिविस्ट के तौर पर चर्चित हुए थे. वह 1977 से 1980 के बीच मोरारजी देसाई के नेतृत्व वाली जनता पार्टी सरकार में भी केंद्रीय मंत्री रहे.

किंग जॉर्ज V की फैन थी मां, इसलिए नाम रखा जॉर्ज
3 जून, 1930 को जन्मे जॉर्ज फर्नांडिस 10 भाषाओं के जानकार थे- हिंदी, अंग्रेजी, तमिल, मराठी, कन्नड़, उर्दू, मलयाली, तुलु, कोंकणी और लैटिन. उनकी मां किंग जॉर्ज फिफ्थ की बड़ी प्रशंसक थीं. उन्हीं के नाम पर अपने छह बच्चों में से सबसे बड़े का नाम उन्होंने जॉर्ज रखा था.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
First published: January 29, 2019, 9:11 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...