लाइव टीवी

जर्मन चांसलर मर्केल दिल्ली पहुंची, प्रदूषण से बचाने के लिए एंबेसी रखे गए मास्क

News18Hindi
Updated: October 31, 2019, 10:21 PM IST
जर्मन चांसलर मर्केल दिल्ली पहुंची, प्रदूषण से बचाने के लिए एंबेसी रखे गए मास्क
एंजेला मर्केल और पीएम मोदी की मुलाक़ात होनी है.

सूत्रों के मुताबिक जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल (German Chancellor Angela Merkel) अपने भारत दौरे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के साथ विभिन्न द्विपक्षीय मुद्दों पर चर्चा करेंगी और इस यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच करीब 20 समझौतों पर दस्तखत होने की संभावना है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 31, 2019, 10:21 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल (German Chancellor Angela Merkel) बर्लिन की साफ और एयर क्वालिटी इंडेक्स (Air Quality Index) के अनुसार अच्छी हवा से दिल्ली (Delhi) की स्मॉग युक्त बेहद खराब हवा में गुरुवार को लैंड कर गयीं. मर्केल पांचवीं भारत-जर्मनी इंटर गवर्नमेंट कोंस्युलेशन (IGC) के लिए दिल्ली पहुचीं हैं. भारत की तरफ से राज्य मंत्री जीतेंद्र सिंह उनके स्वागत के लिए एयरपोर्ट पर मौजूद रहे. मर्केल इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) से मुलाकात भी करेंगी. मर्केल के इस दौरे के लिए दूतावास अपने सुरक्षात्मक उपायों के साथ तैयार है.

न्यूज़18 को मिली जानकारी के मुताबिक जर्मनी से भारत आ रहे प्रतिनिधिमंडल के लिए प्रदूषण रोधी फेस मास्क रखे गए हैं. जिस भी होटल्स में यह प्रतिनिधिमंडल ठहरेगा वहां एयर प्यूरिफायर्स भी रखे गए हैं. मर्केल के साथ तीन कैबिनेट मंत्री, 9 जूनियर मिनिस्टर्स और सेक्रेटरी लेवेल के अधिकारी आ रहे हैं. कुल मिलाकर, उनकी टीम में 15 में से 12 मंत्रालयों का प्रतिनिधित्व किया जाएगा.

 


Loading...

तीन दिवसीय दौरे पर हैं मर्केल
31 अक्टूबर से 2 नंवबर के अपने दौरे में भारतीय नेताओं के साथ बातचीत के अलावा मर्केल शनिवार को स्वदेश रवाना होने से पहले जर्मनी में काम कर रही भारतीय कंपनियों के वरिष्ठ अधिकारियों से भी मुलाकात करेंगी. सूत्रों ने बताया कि दोनों पक्ष रक्षा, सुरक्षा, नवीकरणीय ऊर्जा, उच्च प्रौद्योगिकी, कौशल विकास, रेलवे, शिक्षा, जल व अपशिष्ट प्रबंधन और शहरी विकास के क्षेत्रों में संबंधों को आगे बढ़ाने के तरीकों के बारे में बातचीत कर सकते हैं.

पीएम मोदी और मर्केल अफगानिस्तान, पश्चिम एशिया और कोरियाई प्रायद्वीप की स्थिति सहित प्रमुख क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर विचार-विमर्श कर सकते हैं.

जून में हुई थी मोदी-मर्केल की मुलाकात
जून में, मोदी और मर्केल ने जापानी शहर ओसाका में जी 20 शिखर सम्मेलन (G20 Summit) के मौके पर मुलाकात की थी जहां उन्होंने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और साइबर सुरक्षा जैसे क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने के तरीकों पर चर्चा की थी.

दिलचस्प बात यह है कि जर्मनी और भारत पर्यावरण और स्थिरता से जुड़े मुद्दों पर साथ-साथ रहे हैं. इतना ही नहीं जर्मनी राइन नदी को साफ करने के अपने अनुभव के आधार पर, गंगा नदी को साफ करने के लिए नमामि गंगे परियोजना (Namami Gange Project) से जुड़ा हुआ है.

सूत्रों के मुताबिक मर्केल अपने भारत दौरे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ विभिन्न द्विपक्षीय मुद्दों पर चर्चा करेंगी और इस यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच करीब 20 समझौतों पर दस्तखत होने की संभावना है.

वहीं जानकारी मिली है कि मर्केल की मेडिकल कंडीशन के कारण उन्हें भारत के राष्ट्रगान में बैठने से संबंधित आदेश से कुछ प्रावधानों में उन्हें बैठे रहने की छूट दी जाएगी. 1 नवंबर को राष्ट्रपति भवन में औपचारिक स्वागत समारोह के दौरान दोनों देशों के राष्ट्रगान होंगे.

ये भी पढ़ें-

कैसे चलता है US राष्ट्रपति पर महाभियोग, कैसे बर्खास्त हो सकते हैं ट्रंप?
PM मोदी 2 नवंबर को जाएंगे थाईलैंड, बैंकॉक में भारतीयों को करेंगे संबोधित

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 31, 2019, 9:02 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...