अपना शहर चुनें

States

GHMC चुनाव: अमित शाह बोले- निजाम संस्कृति खत्म कर हैदराबाद को बनाएंगे छोटा भारत

अमित शाह ने हैदराबाद में रोड शो के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया.
अमित शाह ने हैदराबाद में रोड शो के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया.

GHMC Polls: 1 दिसंबर को होने जा रहे ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनावों के प्रचार के लिए केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता अमित शाह रविवार को हैदराबाद पहुंचे. शाह ने हैदराबाद में रोड शो के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 29, 2020, 3:53 PM IST
  • Share this:
हैदराबाद. गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) ने रविवार को हैदराबाद चुनाव प्रचार (GHMC Polls) में रोड शो के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस की.  प्रेस कॉन्फ्रेंस में शाह ने कहा कि टीआरएस विकास की राह में रोड़ा बन रही है, उन्होंने लोगों से अपील की कि वह भाजपा को वोट दें ताकि हैदराबाद में बीजेपी का मेयर बन सके. शाह ने हैदराबाद के लोगों का गर्मजोशी से स्वागत के लिए आभार भी प्रकट किया. शाह ने कहा कि मैं हैदराबाद के लोगों का उनके अपार समर्थन के लिए आभार प्रकट करता हूं. शाह ने कहा कि रोड शो के बाद मैं आश्वस्त हूं कि इस बार बीजेपी अपनी सीटें बढ़ाने और अपनी उपस्थिति मजबूत करने के लिए नहीं लड़ रही है. इस बार बीजेपी हैदराबाद में अपनी पार्टी का मेयर बनाने के लिए मैदान में है.

अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने हैदराबाद को मेडिकल कॉलेज की सौगात दी. शाह ने कहा कि हैदराबाद के लोग बदलाव चाहते हैं. गृह मंत्री ने कहा कि भाजपा के सत्ता में आने के बाद हम हैदराबाद को बाढ़ मुक्त शहर बनाएंगे. उन्होंने कहा कि भाजपा हैदराबाद में आईटी हब बनाएगी जिससे कि शहर में रोजगार के अवसर खुलें. उन्होंने कहा कि बीजेपी जो कहती है वह करती है. शाह ने कहा कि केंद्र ने हैदराबाद को बचा लिया.

अमित शाह ने कहा कि हैदराबाद में आईटी हब बनने की क्षमता है. इंफ्रास्ट्रक्चर का विकास नगर निगम द्वारा किया जाना है, भले ही धन राज्य और केंद्र द्वारा दिया गया हो. टीआरएस एंड कांग्रेस के तहत वर्तमान निगम इसके लिए सबसे बड़ी बाधा है. शाह ने कहा कि हैदराबाद में जिस प्रकार का कॉरपोरेशन टीआरएस और मजलिस के नेतृत्व में चला है, वो हैदराबाद को विश्व का आईटी हब बनाने में सबसे बड़ा रोड़ा है.



ये भी पढ़ें- कृषि सुधारों ने किसानों के लिए नई संभावनाओं के द्वार भी खोले: PM मोदी
अवैध निर्माण हटाने का किया वादा
अमित शाह ने कहा कि बारिश में शहर में पानी भरने से करीब 60 लाख लोग परेशान हुए. मजलिस के इशारों पर अवैध निर्माण होता है, इससे पानी की निकासी रुकती है. उन्होंने कहा कि मैं हैदराबाद की जनता को विश्वास दिलाता हूं कि एक बार भाजपा को मौका दीजिए, हम सारे अवैध निर्माण का हटाकर पानी की निकासी सुचारू करेंगे.

गृह मंत्री ने कहा कि केसीआर और मजलिस ने 100 दिन की योजना का वादा किया था, इसका हिसाब हैदराबाद की जनता मांगती है. 5 साल में कुछ भी किया हो तो यहां की जनता के सामने रखिए. सिटिजन चार्टर का वादा किया था, उसका क्या हुआ?

ये भी पढ़ें- सिद्धू ने कहा- प्रदर्शन कर रहे किसानों के साथ हो रहा अपराधियों जैसा व्यवहार

निजाम संस्कृति से मुक्त होगा हैदराबाद
अमित शाह ने कहा कि हम हैदराबाद को नवाब और निजाम संस्कृति से मुक्त करेंगे और यहां छोटा भारत बनाएंगे. शाह ने कहा कि हम हैदराबाद को मॉर्डन शहर बनाना चाहते हैं, जो कि निजाम संस्कृति के बंधनों से मुक्त होगा.

गृह मंत्री ने कहा कि आईटी सेक्टर में निवेश से हैदराबाद को बहुत फायदा हो रहा है. पीएम मोदी ने युवाओं के लिए बहुत सारे अवसर पैदा किए हैं और यह विदेशी निवेशकों द्वारा भारत में दिखाए गए विश्वास को दर्शाता है. शाह ने कहा कि पीएम मोदी ने 'वर्क फ्रॉम एनिवेयर' का रास्ता खोला. इस कदम से हैदराबाद में काम कर रहे आईटी प्रोफेशनल्स को सबसे ज्यादा फायदा पहुंचेगा.

शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हैदराबाद के लोगों ने लिए आयुष्मान भारत योजना लाए ताकि गरीबों को साल में 5 लाख रुपये तक के मुफ्त इलाज का लाभ मिल सके. आपने राजनीतिक कारणों ये योजना हैदराबाद में लागू नहीं होने दी.

ये भी पढ़ें- अहमद पटेल के निधन साथ खत्म हो जाएगी कांग्रेस में 'युवा बनाम बुजुर्ग' की लड़ाई!

शाह ने कहा कि हम हैदराबाद को परिवारवाद से लोकतंत्र की ओर ले जाना चाहते हैं. चाहे ओवैसी साहब की पार्टी हो या टीआरएस हो, सब हमें सवाल करते हैं. मैं इसने पूछना चाहता हूं कि इतने बड़े तेलंगाना में आपको आपके परिवार के अलावा कोई नहीं मिलता है क्या? क्या किसी में कोई टेलेंट नहीं है?

शाह ने कहा कि हम हैदराबाद को भ्रष्टाचार से पारदर्शिता की ओर ले जाना चाहते हैं. हम हैदराबाद को तुष्टिकरण से विकास की ओर ले जाना चाहते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज