गोवा में डॉक्टर एडविन कोविड-19 से ठीक हुए लोगों को गले लगाकर करते हैं विदा

गोवा में डॉक्टर एडविन कोविड-19 से ठीक हुए लोगों को गले लगाकर करते हैं विदा
गोवा में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ रही है.

गोवा (Goa) मेडिकल कॉलेज मेडिसन विभाग के डॉक्टर एडविन गोम्स (Edwin Gomes) ने कहा कि यह समाज में मरीजों को बहिष्कृत ना करने का संदेश देने का एक तरीका है.

  • Share this:
पणजी. कोरोना वायरस (Coronavirus) के ठीक हुए मरीजों को समाज में बहिष्कृत ना करने और उन्हें अपनाने का संदेश देने के लिए गोवा में एक डॉक्टर इन्हें गले लगाकर विदा कर रहे हैं. गोवा (Goa) मेडिकल कॉलेज मेडिसन विभाग के डॉक्टर एडविन गोम्स (Edwin Gomes) पिछले तीन महीने में कोविड-19 (COVID-19) से ठीक हुए करीब 190 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी देने से पहले गले लगा चुके हैं.

गोम्स मडगांव में कोविड-19 के मरीजों का इलाज कर रहे ईएसआई अस्पताल की डॉक्टरों की टीम का नेतृत्व करते हैं. अस्पताल में करीब 98 दिन ड्यूटी करने के बाद घर लौटे गोम्स ने बताया कि मैंने ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी पाने वाले सभी मरीजों को गले लगाया. डॉक्टर ने कहा कि यह समाज में मरीजों को बहिष्कृत ना करने का संदेश देने का एक तरीका है. उन्होंने इन्हें ‘कोविड एंजल’ बताया.

इसे भी पढ़ें :- महाराष्‍ट्र और दिल्‍ली के बाद अब गोवा, बंगाल और पंजाब बन रहे कोरोना वायरस के नए हॉटस्पॉट



उन्होंने कहा, उनका प्लाज्मा दूसरे मरीजों के इलाज के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है. डॉक्टर ने कहा कि ठीक हुए लोग दूसरों के साथ अपना अनुभव साझा करने के लिए सबसे सही व्यक्ति हैं. बता दें कि गोवा में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. गोवा में 18 मई से 1 जून के बीच कोरोना वायरस संक्रमण की दर 0.24 फीसदी थी. 19 जून से 2 जुलाई के बीच यह बढ़कर 3.6 फीसदी हो गई. राज्‍य में कोरोना वायरस के मामले 1761 से अधिक हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज