PUBG गेम राक्षस बन चुका है, फौरन प्रतिबंध लगाया जाए: गोवा के मंत्री

गोवा के सूचना और टेक्नोलॉजी मंत्री रोहन खाउंटे ने कहा कि यह गेम हर घर में ‘राक्षस’ का रूप ले चुका है और छात्र अपनी पढ़ाई छोड़ कर PUBG खेलने में व्यस्त हैं.

News18Hindi
Updated: February 11, 2019, 2:11 AM IST
PUBG गेम राक्षस बन चुका है, फौरन प्रतिबंध लगाया जाए: गोवा के मंत्री
PUBG को बैन करने की मांग.
News18Hindi
Updated: February 11, 2019, 2:11 AM IST
गोवा के एक मंत्री का कहना है कि ऑनलाइन गेम PUBG पर अब प्रतिबंध लगा देना चाहिए. रविवार को राज्य के सूचना और टेक्नोलॉजी मंत्री रोहन खाउंटे ने कहा कि ऑनलाइन गेम PUBG पर राज्य में रोक लगाने के लिए कानून बनाए जाने की सख्त जरूरत है.

पोरवोरिम में एक सरकारी कार्यक्रम के इतर मीडिया से खाउंटे ने कहा कि यह गेम हर घर में ‘राक्षस’ का रूप ले चुका है और छात्र अपनी पढ़ाई छोड़ कर PUBG खेलने में व्यस्त हैं. खाउंटे ने कहा, ‘PUBG पर रोक लगाने वाले राज्यों के बारे में मुझे जानकारी नहीं है लेकिन कानून बनाया जाना चाहिए ताकि सुनिश्चित हो सके कि गोवा में इस पर प्रतिबंध है.’

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर को इस तरह का प्रतिबंध लगाने के लिए पहल करनी चाहिए. उन्होंने दावा किया, ‘PUBG हर घर में राक्षस बन गया है. छात्र पढ़ाई के बजाए PUBG खेलने पर ध्यान लगा रहे हैं.’ बता दें कि यह गेम साउथ कोरिया की एक कंपनी ने विकसित किया है. जो कि ऑनलाइन गेमिंग के बाजार में सर्वाधिक बिक्री वाला खेल बन गया है.



इससे पहले 11 साल के एक लड़के ने PUBG पर बैन लगाने की मांग की थी. अहद नज़ीम नाम के इस लड़के ने अपने मां के जरिए बॉम्‍बे हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की थी. अहद ने दलील दी कि ये गेम बच्चों को गुस्सैल और हिंसक बना रहा है. साथ ही जनहित याचिका में कहा है कि हाईकोर्ट महाराष्ट्र सरकार को आदेश दे कि इस गेम पर तुरंत बैन लगाया जाए.

इधर, दिल्‍ली के सभी स्‍कूलों में कुछ प्रमुख ऑनलाइन गेम्‍स को लेकर नोटिस जारी किया गया है. जिसमें सभी स्‍कूलों से कहा गया है कि बच्‍चों को पबजी, फोर्टनाइट, हिटमैन, ग्रैंड थेफ्ट ऑटो, गॉड ऑफ वॉर और पोकेमोन गो जैसे ऑनलाइन गेम्‍स से दूर रहने के लिए प्रेरित करें. इतना ही नहीं इस नोटिस को सभी बच्‍चों के माता-पिताओं तक भी भेजा गया है. इसमें बच्‍चों को इन चीजों से कैसे दूर रखें, इसके उपाय भी बताए गए हैं.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर