गोवा के मंत्री विश्वजीत राणे बोले- श्रीपद नाईक मौत के मुंह से लौटे हैं

गोवा के मंत्री विश्वजीत राणे बोले- श्रीपद नाईक मौत के मुंह से लौटे हैं
आयुष मंत्री श्रीपद नाइक

केंद्रीय आयुष मंत्री श्रीपद नाईक (Ayush Minister Shripad Naik) कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित पाए गए थे. फिर वह होम आईसोलेशन में चले गए थे.

  • Share this:
पणजी. गोवा के स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे (Goa Health Minister Vishwajeet Rane) ने शुक्रवार को कहा कि केंद्रीय आयुष मंत्री श्रीपद नाईक (Shripad Naik) कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित होने के बाद ‘मौत के मुंह से लौटे हैं’. राणे ने कहा कि नाईक एक निजी अस्पताल में भर्ती हैं तथा प्लाजमा थैरेपी के बाद उनकी हालत ठीक है. नाईक के संक्रमित होने के बाद से आयुष मंत्रालय द्वारा प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाले उपायों के प्रभाव को लेकर सवाल उठ रहे हैं तथा आलोचना हो रही है. राणे ने उन आलोचनाओं को सिरे से खारिज कर दिया.

उन्होंने कहा, ‘आयुष मंत्रालय ने प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के उपायों की सिफारिश की है तो ऐसा उपयुक्त अनुसंधान के बाद विवेक का इस्तेमाल करते हुए किया होगा. इस पर टिप्पणी करना ठीक नहीं है.’

'दुर्भाग्य था कि वह संक्रमित हो गए'
राणे ने एक सवाल के जवाब में कहा, ‘नाईक मौत के मुंह से लौटे हैं, यह दुर्भाग्य था कि वह संक्रमित हो गए. वह कई लोगों से मिलते हैं. हमें उनकी सेहत में तेजी से सुधार के लिए प्रार्थना करनी चाहिए.’
इससे पहले अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) दिल्ली के चिकित्सकों की टीम ने मंगलवार को केंद्रीय मंत्री श्रीपद नाईक के स्वास्थ्य का जायजा लिया. राज्य के एक स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि प्रधानमंत्री कार्यालय के निर्देश और गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत के आग्रह पर एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने नाईक के इलाज की समीक्षा के लिए दो विशेषज्ञ चिकित्सकों को भेजा.अधिकारी ने कहा कि एम्स के विशेषज्ञों ने नाईक से मुलाकात की और उनके इलाज की समीक्षा की. उन्होंने कहा कि वे उनकी चिकित्सा और देखभाल से संतुष्ट थे. (भाषा इनपुट के साथ)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज