लाइव टीवी

छात्रों ने रैगिंग के खिलाफ लिखी राष्ट्रपति, मुख्यमंत्री को चिट्ठी, कहा- नाबालिग से पूछा पॉर्न देखते हो!

भाषा
Updated: November 28, 2019, 9:45 PM IST
छात्रों ने रैगिंग के खिलाफ लिखी राष्ट्रपति, मुख्यमंत्री को चिट्ठी, कहा- नाबालिग से पूछा पॉर्न देखते हो!
एनएसयूआई के छात्रों ने राष्ट्रपति, मुख्यमंत्री और राज्यपाल को चिट्ठी लिखी है

नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (Nationa Students Union of India) के छात्रों ने दावा किया कि छात्र की उम्र 18 साल से कम थी और उससे पूछा गया था कि क्या उसने ‘पोर्न’ देखा है और जब उसने इसका जवाब नहीं दिया तो उसे अपमानित किया गया

  • Share this:
पणजी. नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (Nationa Students Union of India) ने गोवा (Goa) में एक नाबालिग छात्र के साथ रैगिंग की कथित घटना को लेकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ramnath Kovind) और राज्य के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत (Pramod Sawant) एवं राज्यपाल सत्यपाल मलिक (Satyapal Malik) को पत्र लिखकर मामले में जरूरी कार्रवाई की मांग की है.

कांग्रेस (Congress) समर्थित छात्रों के संगठन ने दावा किया कि छात्र की उम्र 18 साल से कम थी और उससे पूछा गया था कि क्या उसने ‘पोर्न’ देखा है और जब उसने इसका जवाब नहीं दिया तो उसे अपमानित किया गया.

700 लोगों के सामने हुई घटना
एनएसयूआई गोवा (NSUI Goa) के प्रमुख अहराज मुल्ला ने कहा कि कथित घटना कॉलेज के एक कार्यक्रम ‘युवा रंग’ के दौरान करीब 700 लोगों की भीड़ के सामने हुई. कार्यक्रम का आयोजन यहां से 30 किलोमीटर दूर पोंडा टाउन में राजीव गांधी कला मंदिर (Rajiv Gandhi Kala Mandir) में हो रहा था. हालांकि, पत्र में यह नहीं बताया गया है कि कार्यक्रम कब आयोजित हुआ था.

एनएसयूआई ने बुधवार को राष्ट्रपति कोविंद, गोवा के मुख्यमंत्री सावंत और राज्य के राज्यपाल सत्यपाल मलिक को पत्र भेजा. राज्य मंत्रिमंडल में शिक्षा विभाग मुख्यमंत्री के पास ही है. पत्र के अनुसार, ‘‘पीड़ित छात्र से यह पूछा गया कि क्या उसने पोर्न देखा है और जब उसने जवाब देने से मना किया तो उसे अपमानित किया गया.’’

मानसिक पीड़ा में है छात्र
एनएसयूआई ने कहा कि उसे बाद में भीड़ के सामने अपनी टीशर्ट उतारने को कहा गया और निजी सवाल कर उसे अपमानित किया गया जिसके कारण छात्र ‘‘मानसिक पीड़ा’’ में है. छात्र संगठन ने कहा, ‘‘हमारा आपसे नम्र निवेदन है कि इस मामले को गंभीरता से लिया जाये और युवा रंग के आयोजकों के खिलाफ जरूरी कार्रवाई की जाये तथा मामले में गहन जांच हो.’’
Loading...

संपर्क किये जाने पर मुख्यमंत्री कार्यालय के अधिकारी ने कहा कि पत्र मिलने के बाद जरूरी कार्रवाई शुरू की जायेगी.

ये भी पढ़ें-
महाराष्ट्र: उद्धव सरकार के कॉमन मिनिमम प्रोग्राम में किसानों को राहत

अशोक चव्हाण पर फिर आदर्श स्कैम का साया, ED के नए कदम से छिटका मंत्री पद

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 28, 2019, 8:27 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...