Assembly Banner 2021

गुजरात के शिवरात्रि कार्यक्रम में उड़ी कोरोना नियमों की धज्जियां, भाजपा MLA ने भगवान को बताया जिम्मेदार

वड़ोदरा में आयोजित महाशिवरात्रि कार्यक्रम में जुटी भीड़. (ANI)

वड़ोदरा में आयोजित महाशिवरात्रि कार्यक्रम में जुटी भीड़. (ANI)

Gujarat News: मंजलपुर से भाजपा विधायक योगेश पटेल ने कहा, 'मैंने किसी को न्योता नहीं दिया. मैं इसके लिए जवाबदेह कैसे हो सकता हूं? भगवान जिम्मेदार हैं.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 16, 2021, 7:59 PM IST
  • Share this:

अहमदाबाद. देश में कोरोना वायरस फिर से अपने पांव पसार रहा है, ऐसे में सभी राज्यों को कोविड-19 प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करने को कहा गया है. इस बीच गुजरात के वड़ोदरा में सत्यम शिवम सुंदरम समिति द्वारा आयोजित एक महाशिवरात्रि कार्यक्रम में भारी संख्या में भीड़ जुटने के बाद स्थानीय प्रशासन पर सवाल उठाए जा रहे हैं. इस बारे में जब भाजपा विधायक योगेश पटेल से पूछा गया, तो उन्होंने इसके लिए भगवान को ही जिम्मेदार ठहरा दिया. मंजलपुर से भाजपा विधायक योगेश पटेल ने कहा, 'मैंने किसी को न्योता नहीं दिया. मैं इसके लिए जवाबदेह कैसे हो सकता हूं? भगवान जिम्मेदार हैं.'


इस बीच, कोविड-19 के बढ़ते मामलों पर काबू पाने के लिए गुजरात सरकार ने मंगलवार को चार बड़े शहरों में रात का कर्फ्यू दो घंटे के लिए बढ़ाने का निर्णय लिया. एक सरकारी बयान में बताया गया है कि अहमदाबाद, वड़ोदरा, सूरत और राजकोट में अब रात के दस बजे से लेकर सुबह छह बजे तक कर्फ्यू लगा रहेगा. पहले रात बारह बजे से सुबह छह बजे तक का कर्फ्यू लगाया गया था.

बयान के अनुसार मुख्यमंत्री विजय रूपाणी की अगुआई में कोरोना वायरस कार्यबल ने मंगलवार को अपनी कोर समिति की बैठक में यह निर्णय लिया. सरकार ने कहा, ‘‘राज्य सरकार ने कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के मद्देनजर रात के दस बजे से लेकर सुबह छह बजे तक कर्फ्यू लगाने का फैसला किया है.’’ उसने कहा कि यह पाबंदी 31 मार्च तक प्रभाव में रहेगी.

सोमवार (15 मार्च) को अहमदाबाद नगर निगम ने सोमवार को आठ वार्डों में होटल, रेस्तरां, मॉल आदि से रात दस बजे तक अपना कामकाज बंद कर लेने को कहा था. गुजरात में सोमवार को कोविड-19 के 890 नए मरीज सामने आने से राज्य में इस महामारी के मामले बढ़कर 2,79,097 हो गए. (इनपुट भाषा से भी)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज