Home /News /nation /

good news for international travelers uploading of kovid vaccination certificate on air suvidha portal can provide relief

खुशखबरी! एयर-सुविधा पोर्टल पर टीकाकरण प्रमाणपत्र अपलोड से मिल सकती है राहत

'सुविधा पोर्टल' के सही ढंग से काम न करने की वजह से केंद्र सरकार ने इसे बंद करने की योजना बनाई है, जिससे विदेशी यात्रियों को राहत मिल सकती है. (File Photo)

'सुविधा पोर्टल' के सही ढंग से काम न करने की वजह से केंद्र सरकार ने इसे बंद करने की योजना बनाई है, जिससे विदेशी यात्रियों को राहत मिल सकती है. (File Photo)

अंतरराष्ट्रीय यात्री समय-समय पर पोर्टल के काम न करने की शिकायत करते रहे हैं, जिससे उनके लिए स्व-घोषणा फॉर्म हासिल करना और कोविड टीकाकरण प्रमाणपत्र या आरटी-पीसीआर जांच की रिपोर्ट अपलोड करना मुश्किल हो जाता है.

हाइलाइट्स

विदेशी यात्रियों को सुविधा पोर्टल पर टीकाकरण प्रमाण पत्र अपलोड करने से राहत देने पर विचार
कोरोना वायरस का सेल्फ डिक्लरेशन देना अभी भी जरूरी रहेगा.
पोर्टल के सही ढंग से काम न करने की शिकायत मिलने पर केंद्र ने उठाया कदम

नई दिल्ली. केंद्र सरकार एक ऐसे प्रावधान को हटाने पर सक्रिय रूप से विचार कर रही है, जिसके तहत अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए भारत आने से पहले ‘एयर सुविधा’ पोर्टल पर अपना कोविड टीकाकरण प्रमाणपत्र या आरटी-पीसीआर जांच की नकारात्मक रिपोर्ट अपलोड करना जरूरी होता है. आधिकारिक सूत्रों ने हालांकि ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि पोर्टल पर ऑनलाइन स्व-घोषणा (Self Declaration) फॉर्म भरने की मौजूदा अनिवार्यता आगे भी जारी रहेगी.

सूत्रों के मुताबिक, ‘अंतरराष्ट्रीय यात्री समय-समय पर पोर्टल के काम न करने की शिकायत करते रहे हैं, जिससे उनके लिए स्व-घोषणा (Self Declaration) फॉर्म हासिल करना और कोविड टीकाकरण प्रमाणपत्र या आरटी-पीसीआर जांच की रिपोर्ट अपलोड करना मुश्किल हो जाता है. उन्होंने कहा कि एयर सुविधा पोर्टल पर टीकाकरण प्रमाणपत्र और जांच रिपोर्ट अपलोड करने की अनिवार्यता हटने से उन्हें राहत मिलेगी.

सूत्रों के अनुसार, ‘नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने अंतरराष्ट्रीय यात्रियों को होने वाली असुविधा का हवाला देते हुए हाल ही में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय से उस प्रावधान को हटाने के संबंध में राय मांगी है, जिसके तहत उनके लिए एयर सुविधा पोर्टल पर कोविड टीकाकरण प्रमाणपत्र या आरटी-पीसीआर जांच की नेगेटिव रिपोर्ट अपलोड करना अनिवार्य होता है.’ उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य मंत्रालय जल्द ही इसकी मंजूरी दे सकता है.

सूत्रों के मुताबिक, उड्डयन मंत्रालय को अंतरराष्ट्रीय यात्रियों से उनकी यात्रा से पहले प्रमाणपत्र अपलोड करने में आने वाली परेशानियों के बारे में लगातार ‘फीडबैक’ मिल रहा है. उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की संख्या कोरोनाकाल से पहले के स्तर पर पहुंचने के मद्देनजर कई देशों ने यात्रा को सुविधाजनक बनाने के लिए विभिन्न प्रतिबंधों और अनिवार्यताओं में ढील देने की पहल की है.

Tags: Coronavirus

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर