Google India, 28 January 2021: विवादों में बॉम्बे हाईकोर्ट का फैसला; किसान संगठनों ने वापस लिया आंदोलन!

न्यायमूर्ति पुष्पा गनेडीवाला ने 19 जनवरी को पारित एक आदेश में कहा कि यौन हमले का कृत्य माने जाने के लिए यौन मंशा से स्किन से स्किन का संपर्क होना जरूरी है.

न्यायमूर्ति पुष्पा गनेडीवाला ने 19 जनवरी को पारित एक आदेश में कहा कि यौन हमले का कृत्य माने जाने के लिए यौन मंशा से स्किन से स्किन का संपर्क होना जरूरी है.

Google India 28 January 2021 Daily Search Trends: देश-दुनिया में दिन भर में ऐसी कई बड़ी घटनाएं हुईं जिनके बारे में शायद आपको पता न चला हो लेकिन लोग गूगल पर किन खबरों को सबसे ज्यादा पढ़ रहे हैं, वह आप यहां पढ़ सकते हैं...

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 29, 2021, 5:46 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिन भर की कई ऐसी खबरें होती हैं जो चाहकर भी आप पढ़ नहीं पाते. देश दुनिया की कई ऐसी खबरें होती हैं जो काफी चर्चा में होती हैं, लेकिन सारी खबरें एक साथ न मिल पाने से वह कहीं न कहीं हमसे छूट जाती हैं और हमें उससे जुड़ी जानकारी नहीं मिल पाती. ऐसे में हम आपके लिए ऐसी ही खबरों को एक साथ लेकर आते हैं जिससे आपको एक ही क्लिक में ऐसी सारी खबरों की जानकारी मिल सके जिनके बारे में देश भर में सबसे ज्यादा लोग गूगल पर सर्च कर रहे हैं.

किसान आंदोलन के बीच गाजीपुर बॉर्डर को बंद कर दिया गया. गुरुवार शाम को टिकैत ने कहा, 'किसानों का आंदोलन जारी रहेगा. लाल क़िले पर किसने हिंसा फैलाई इसकी जांच हो, सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) इसकी जांच करे.' राकेश टिकैत ने कहा कि हमारे साथ छल हुआ है, एक कौम को बदनाम करने की कोशिश की जा रही है. किसानों के गाजीपुर बॉर्डर पर जमावड़े के कारण पूरे क्षेत्र की सुरक्षा को बढ़ा दिया गया है.

मैन यूनाइटेड बनाम शेफ़ील्ड युनाइटेड: ओले गुन्नर सोलस्कर के मेन सफ़र शॉक को 2-1 से हराया

हार के बाद मैनचेस्टर सिटी के वेस्ट ब्रॉम में 5-0 से जीत दर्ज की गई, जिसमें गार्डियोला के पुरुष चार सत्रों में तीसरे खिताब के लिए शिकार करने में एक कदम आगे थे. हार ने यूनाइटेड को 40 अंकों के साथ दूसरे स्थान पर छोड़ दिया जबकि कड़वे प्रतिद्वंद्वी सिटी एक अंक की बढ़त के साथ शीर्ष पर बैठे हैं और खेल कम खेला है. लीसेस्टर सिटी और वेस्ट हैम शीर्ष चार को पूरा करते हैं.
ईपीएल: मैनचेस्टर युनाइटेड की हार, चेल्सी ने खेला ड्रॉ

खिताब के प्रबल दावेदार माने जा रहे मैनचेस्टर युनाइटेड के खिलाड़ियों ने प्रीमियर लीग फुटबॉल के इस सीजन में पहली बार लचर प्रदर्शन किया और आखिरी स्थान पर काबिल शेफील्ड युनाइटेड के हाथों 1-2 से अप्रत्याशित हार झेलनी पड़ी. इसके साथ ही नंबर वन पर वापसी का उसका इंतजार लंबा हो गया. वहीं मैनचेस्टर सिटी टॉप पर पहुंच गई जिसने पिछले सातों मैच जीते हैं.

Abu Dhabi T10 League 2021: जानें कहां देखें मैच की LIVE Streaming



अबू धाबी में टी10 लीग (Abu Dhabi T10 League 2021) का नया सीजन शुरू हो चुका है. क्रिकेट के इस सबसे छोटे फॉर्मेट वाली लीग में कुल 8 टीमें इस खिताब के लिए ताल ठोकेंगी. इन टीमों को दो ग्रुप में बांटा गया है सभी टीमें ग्रुप स्टेज में एक-दूसरे के खिलाफ भिड़ेंगी. अबू धाबी T10 लीग 2021 में प्रतिदिन तीन मैच खेले जाएंगे. भारतीय समयानुमसार ये मैच शाम 5:30 pm, 7:45 pm, और रात 10:00 pm से शुरू होंगे. इस लीग में तीसरे स्थान और फाइनल मैच के लिए 6 फरवरी की तारीख निर्धारित की गई है.

PAK vs SA 1st Test: यासिर शाह ने पाकिस्तान को जीत के करीब पहुंचाया

कराची के नेशनल क्रिकेट स्टेडियम में खेले जा रहे पहले टेस्ट के तीसरे दिन पाकिस्तान के स्पिनरों ने अंतिम क्षणों में तीन विकेट लेकर दक्षिण अफ्रीका को गहरे संकट में डाल दिया. दक्षिण अफ्रीका ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक चार विकेट पर 187 रन बनाये हैं. उसे अभी केवल 29 रन की बढ़त हासिल हुई है. पाकिस्तान ने दक्षिण अफ्रीका के पहली पारी के 220 रन के जवाब में 378 रन बनाकर 158 रन की मजबूत बढ़त हासिल की थी. यासिर शाह की पारी ने पाकिस्तान को जीत की ओर पहुंचाया.

Farmer Protest: छावनी में तब्दील हुआ गाजीपुर बॉर्डर, राकेश टिकैत हुए भावुक

गणतंत्र दिवस के दिन दिल्ली में हुआ हंगामा अब तक थमा नहीं है. किसान आंदोलन के कारण गुरुवार को गाजीपुर बॉर्डर छावनी में तब्दील हो गया. यहां पर सिर्फ और सिर्फ सुरक्षाबलों का पहरा नजर आ रहा है. भारी संख्या में पुलिसबल की तैनाती की गई है. प्रशासन कोई भी कार्रवाई करने से पहले सावधानी बरत रहा है. करीब 37 किसान नेताओं पर एफआईआर होने अब कई को लुकआउट नोटिस जारी होने के बाद अब किसान आंदोलन (Kisan Andolan) को खत्‍म करने की तेज तैयारी है. शाम करीब 7.30 बजे तक यहां दिल्‍ली पुलिस के जिला उपायुक्‍त की तरफ से धारा 144 लागू कर दी गई, जिसके तहत यहां किसी भी तरह के प्रदर्शन या इकट्ठा होने पर रोक लगा दी गई.

विवादों में आया बॉम्बे हाईकोर्ट की जज पुष्पा वीरेंद्र गनेडीवाला का फैसला

बॉम्बे हाईकोर्ट की जस्टिस पुष्पा वीरेंद्र गनेडीवाला (Pushpa Virendra Ganediwala) इन दिनों अपने फैसले के कारण सुर्खियों में हैं. बॉम्बे हाईकोर्ट की नागपुर बेंच की जज पुष्पा गनेडीवाला ने 19 जनवरी को एक फैसले में कहा था कि यौन हमले की घटना मानने के लिए यौन इच्छा के साथ त्वचा से त्वचा का संपर्क होना चाहिए. उन्होंने कहा था, 'त्वचा से त्वचा का संपर्क' हुए बिना नाबालिग पीड़िता का स्तन स्पर्श करना, यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण करने संबंधी अधिनियम (पोक्सो) के तहत यौन हमला नहीं कहा जा सकता.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज