गूगल ने किया आज का डूडल अमृता प्रीतम के नाम, जानिए उनके बारे में

गूगल (Google) ने ये डूडल (Doodle) अमृता प्रीतम (Amrita Pritam) के 100वें जन्मदिन के अवसर पर उनके नाम किया है. गूगल ने इस डूडल को बेहद खास अंदाज में बनाया है.

News18Hindi
Updated: August 31, 2019, 9:12 AM IST
गूगल ने किया आज का डूडल अमृता प्रीतम के नाम, जानिए उनके बारे में
गूगल का डूडल आज अमृता प्रीतम के नाम.
News18Hindi
Updated: August 31, 2019, 9:12 AM IST
गूगल (Google) ने आज का डूडल (Doodle) अमृता प्रीतम (Amrita Pritam) के नाम समर्पित किया है. गूगल ने ये डूडल अमृता प्रीतम के 100वें जन्मदिन के अवसर पर उनके नाम किया है. गूगल ने इस डूडल को बेहद खास अंदाज में बनाया है.

अमृता प्रीतम अपने समय की मशहूर लेखिकाओं में से एक थी. इस डूडल में एक तस्वीर के माध्यम से अमृता प्रीतम को लिखते हुए दिखाया गया है. इस डूडल पर क्लिक करने पर आपको अमृता प्रीतम के बारे में सबकुछ जानने को मिल जाएगा. साल 1919 में पंजाब के गुजरांवाला जिले में पैदा हुईं अमृता प्रीतम को पंजाबी भाषा की पहली कवयित्री माना जाता है.

अमृता प्रीतम


उन्होंने कुल मिलाकर लगभग सौ से ज्यादा किताबें लिखी हैं, जिनमें उनकी चर्चित आत्मकथा 'रसीदी टिकट' भी शामिल है. अमृता प्रीतम उन साहित्यकारों में थीं जिनकी लिखी किताबों का कई भाषाओं में अनुवाद हुआ. अपने अंतिम दिनों में अमृता प्रीतम को भारत का दूसरा सबसे बड़ा सम्मान पद्मविभूषण भी प्राप्त हुआ. उन्हें साहित्य अकादमी पुरस्कार से पहले ही मिल चुका था.

उनका बचपन

उनका बचपन बीता लाहौर में, शिक्षा भी वहीं हुई. कमसिन उम्र से ही उन्होंने लिखना शुरू कर दिया था. उन्हें अपनी पंजाबी कविता 'अज्ज आखां वारिस शाह नूं' के लिए बहुत शोहरत हासिल हुई. इस कविता में भारत विभाजन के समय पंजाब में हुई भयानक घटनाओं के दुखांत का जिक्र है. उनका ये काम भारत और पाकिस्तान, दोनों देशों में सराहा गया.

ये भी पढ़ें:
Loading...

PM मोदी के जन्मदिन पर बीजेपी करने जा रही है ये काम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 31, 2019, 8:24 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...