अपना शहर चुनें

States

पंजाब की कांग्रेसी सरकार ने जानबूझकर किसानों को भड़काया, पुलिस पर हमले हुए और तिरंगे का अपमान हुआ: सरकार

प्रकाश जावेडकर ने लगाए कांग्रेस पर आरोप. (फाइल फोटो)
प्रकाश जावेडकर ने लगाए कांग्रेस पर आरोप. (फाइल फोटो)

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर (Prakash Javadekar) ने प्रेस कांफ्रेंस कर पूरी हिंसा के पीछे कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया. साथ ही उन्होंने दिल्ली पुलिस के धैर्य और संयम की प्रशंसा की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 28, 2021, 5:00 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. गणतंत्र दिवस पर किसानों के ट्रैक्टर मार्च में हुई हिंसा और उत्पात (Republic Day Violence) को लेकर केंद्र सरकार ने कांग्रेस को जिम्मेदार (Congress Responsible) ठहराया है. केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने प्रेस कांफ्रेंस कर पूरी हिंसा के पीछे कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया. साथ ही उन्होंने दिल्ली पुलिस के धैर्य और संयम की प्रशंसा की है.

'हिंसा के पीछे कांग्रेस का हाथ होने के प्रमाण'
जावडेकर ने कहा- 'पंजाब में कांग्रेस की सरकार है. जानबूझकर किसानों को उकसाया गया. कल के ट्वीट भी प्रमाण हैं. इनमें यूथ कांग्रेस के ट्वीट भी हैं. एक ट्वीट में कांग्रेस ने लिखा कि अहिंसक मार्च को हिंसक दिखाने की कोशिश की जा रही है. क्या लाल किले पर जो हुआ, वो अहिंसक था. पुलिस पर तलवार और डंडे से प्रहार हुए. क्या वो अहिंसक था? पुलिस के 300 से ज्यादा लोग जख्मी हुए. और कांग्रेस कह रही है कि अहिंसक मार्च को हिंसक दिखाने की कोशिश हो रही है.'


'देशभर से हुई निंदा तब राहुल ने हिंसा की आलोचना की'


उन्होंने एक और ट्वीट का जिक्र किया- 'युवा कांग्रेस मजबूती से ट्रैक्टर रैली के साथ खड़ी है. और ये ट्रैक्टर कैसे? बस और पुलिस जीप को सामने से टक्कर मारेंगे. कांग्रेस के एक ट्वीट में तो एक किसान की मौत के लिए पुलिस बर्बरता को जिम्मेदार ठहराया गया. जब पूरे देश से निंदा के स्वर उठने लगे तब राहुल गांधी ने हिंसा की आलोचना की. दरअसल कांग्रेस हताश और निराश है. कम्युनिस्टों की भी यही हालत है. ये किसी भी तरह से देश में दंगे भड़काना चाहते हैं. जिससे लोगों के जान-माल की हानि हो और माहौल को भड़काया जाए.'

दिल्ली पुलिस ने प्रशंसनीय काम किया
जावडेकर ने कहा- 'दरअसल पीएम मोदी की लोकप्रियता बढ़ रही है. कांग्रेस और कम्युनिस्टों की घट रही है. उन्हें चिंता है कि परिवारराज का क्या होगा. लोगों ने उन्हें नकारा लेकिन कांग्रेस अहंकार के साथ हिंसा को उकसाने का काम कर रही है. दिल्ली पुलिस ने अद्भुत संयम दिखाया. उनके पास शस्त्र थे लेकिन फिर पुलिस ने संयम दिखाया. ये बेहद प्रशंसनीय काम है.'

'कृषि कानून को लेकर हमने सब उपाय किए'
कृषि कानून पर उन्होंने कहा- सरकार ने दस राउंड बातचीत की. आग्रह किया कि बिंदुवार चर्चा की जाए. लेकिन लगातार सिर्फ कानून को वापस लेने की बात कही जाती रही. हमने कानून को डेढ़ साल स्थगित करने की बात भी कही थी. गणतंत्र दिवस पर हिंसा की जिम्मेदारी से कांग्रेस भाग नहीं सकती. पंजाब में उनकी सरकार है. कांग्रेस की ऐसी राजनीति निंदनीय है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज