सरकार ने कोविन ऐप के जरिये फायदा पहुंचाने वाली खबरों का किया खंडन

टेक्नोलॉजी एंड डेटा मैनेजमेंट के एमपावर ग्रुप के चेयरमैन ने कहा है कि इस तरह खबरें निराधार हैं (सांकेतिक तस्वीर)

टेक्नोलॉजी एंड डेटा मैनेजमेंट के एमपावर ग्रुप के चेयरमैन ने कहा है कि इस तरह खबरें निराधार हैं (सांकेतिक तस्वीर)

वैक्सीन की सप्लाई बढ़ती जा रही है और स्लॉट्स भी खोले जा रहे हैं. कोविन ऐप के जरिए रजिस्ट्रेशन से वैक्सीनशन सेंटर पर भीड़ रोकने और संक्रमण फैलने से रोका जा रहा है.

  • Share this:

नई दिल्ली. केंद्र सरकार (Central Government) ने कुछ मीडिया संस्थाओं द्वारा कोविन ऐप (CoWin App) इस्तेमाल कर डिजिटल भेदभाव कर जनसंख्या के कुछ हिस्सों को फायदा पहुंचाने की खबरों का खंडन किया है. सरकार ने कहा है कि 16 जनवरी के बाद जब से टीकाकरण शुरू हुआ है सभी राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों को पारदर्शिता के साथ वैक्सीन मुहैया कराया जा रहा है.

टेक्नोलॉजी एंड डेटा मैनेजमेंट के एमपावर ग्रुप के चेयरमैन ने कहा है कि इस तरह खबरें निराधार हैं. उन्होंने कहा कि देश के 17.67 % योग्य भारतीयों को वैक्सीन का एक डोज दिया जा चुका है. उन्होंने कहा कि कोविन ऐप को हैक नहीं किया जा सकता. साथ ही ओटीपी को बाईपास नहीं किया जा सकता.

बढ़ रही है वैक्सीन की सप्लाई

उन्होंने कहा कि वैक्सीन की सप्लाई बढ़ती जा रही है और स्लॉट्स भी खोले जा रहे हैं. कोविन ऐप के जरिए रजिस्ट्रेशन से वैक्सीनशन सेंटर पर भीड़ रोकने और संक्रमण फैलने से रोका जा रहा है.
ये भी पढ़ें- कोरोना से परिवार में कमाऊ सदस्य की मौत, मदद के लिए केंद्र सरकार के बड़े ऐलान

इससे पहले केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने शनिवार को 18 साल से अधिक आयु के सभी सरकारी कर्मियों को सलाह दी कि वे जल्द से जल्द अपना कोविड रोधी टीकाकरण कराएं.

कार्मिक राज्य मंत्री सिंह ने कहा, ‘‘कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग (डीओपीटी) 18 साल से अधिक उम्र के सभी सरकारी कर्मियों को जल्द से जल्द टीकाकरण कराने की सलाह दे रहा है.’’



कार्मिक मंत्रालय द्वारा जारी बयान के अनुसार मंत्री ने कहा कि चूंकि सरकार ने टीकाकरण कार्यक्रम में 18 साल और इससे अधिक आयु के लोगों को शामिल करने का निर्णय किया है, इसलिए इस समूह के सभी कर्मियों को सलाह दी जा रही है कि वे टीकाकरण कराएं.


सिंह ने कहा कि गृह मंत्रालय के सहयोग से नॉर्थ ब्लॉक में टीकाकरण शिविर आयोजित किए जा रहे हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज