लाइव टीवी

मोबाइल वॉलेट की लिमिट डबल, डेबिट कार्ड से चार्ज हटा

Pradesh18
Updated: November 24, 2016, 3:05 PM IST
मोबाइल वॉलेट की लिमिट डबल, डेबिट कार्ड से चार्ज हटा
Demo Pic

लोगों की सुविधा को देखते हुए रिजर्व बैंक ने डिजिटल वॉलेट के लिए मौजूदा बैलेंस लिमिट 20,000 रुपए तक बढ़ा दी है.साथ ही वित्त मंत्रालय ने रूपे डेबिट कार्ड, सरकारी बैंकों के डेबिट कार्ड और रेलवे की ई-टिकटिंग से 31 दिसंबर तक लेन-देन शुल्क में छूट दे दी है.

  • Pradesh18
  • Last Updated: November 24, 2016, 3:05 PM IST
  • Share this:
लोगों की सुविधा को देखते हुए रिजर्व बैंक ने डिजिटल वॉलेट के लिए मौजूदा बैलेंस लिमिट 20,000 रुपए तक बढ़ा दी है.

साथ ही वित्त मंत्रालय ने रूपे डेबिट कार्ड, सरकारी बैंकों के डेबिट कार्ड और रेलवे की ई-टिकटिंग से 31 दिसंबर तक लेन-देन शुल्क में छूट दे दी है और निजी बैंकों को भी ऐसा करने की सलाह दी है.

वॉलेट यूजर के लिए लिमिट को दोगुना कर दिया गया है. नोटंबदी के बाद देशभर में लोगों को कैश की दिक्कत हो रही है. ऐसे में फ्रीचार्ज, मोबिक्विक और पेटीएम जैसे डिजिटल वॉलेट के इस्तेमाल में जबरदस्त बढ़ोतरी देखी गई है.



डिजिटल वॉलेट के लिए इससे पहले लिमिट 10,000 रुपए (बिना केवाईसी) थी. लोग ई-केवाईसी करवाकर लिमिट को एक लाख तक बढ़ा सकते हैं. इसके लिए अपना आधार कार्ड जमा करना होता है.



ई-वॉलेट का इस्तेमाल करने वाले दुकानदार अब हर महीने बैंक अकाउंट में 50,000 रुपए तक ट्रांसफर कर सकते हैं. इसके लिए प्रति ट्रांजेक्शन कोई लिमिट भी नहीं है. यह सभी घोषणाएं 31 दिसंबर तक के लिए लागू की गई हैं.

वित्त मंत्रालय ने कर कहा, 'डेबिट कार्ड के प्रयोग को बढ़ावा देने के लिए सरकारी बैंकों और कुछ निजी बैंकों ने 31 दिसंबर तक एमडीआर (मर्चेट डिस्काउंट रेट) शुल्क नहीं वसूलने का फैसला किया है. उम्मीद है कि अन्य निजी बैंक भी ऐसा करेंगे.' आईसीआईसीआई बैंक ने भी डेबिट कार्ड लेनदेन पर बुधवार से 31 दिसंबर तक शुल्क नहीं वसूलने की घोषणा की है.

भारतीय रेलवे ने ई-टिकट पर सर्विस शुल्क नहीं वसूलने का फैसला किया है. अब तक सेकेंड क्लास के लिए 20 रुपये और अपर क्लास के लिए 40 रुपये का शुल्क लगता था.

सभी सरकारी संस्थान, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम और अन्य सरकारी प्राधिकारों को सलाह दी गई है कि वे केवल डिजिटल भुगतान प्रणाली जैसे इंटरनेट बैंकिंग, यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस, कार्ड, आधारयुक्त भुगतान प्रणाली आदि का इस्तेमाल करें.

(ये खबर फर्स्ट पोस्ट के फेसबुक पेज से ली गई है)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 24, 2016, 3:05 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading