सरकार की ट्विटर को चेतावनी, विवादित हैशटैग हटाओ या कार्रवाई के लिए तैयार रहो

 ट्विटर को सरकार का निर्देश मानना होगा नहीं तो कार्रवाई की जा सकती है. (Pic- AP)

ट्विटर को सरकार का निर्देश मानना होगा नहीं तो कार्रवाई की जा सकती है. (Pic- AP)

Twitter India: ट्विटर पर ModiPlanningFarmerGenocide हैशटैग चलाया गया था. सरकार ने ट्विटर को ऐसे अकाउंट पर कार्रवाई करने के लिए कहा था लेकिन ट्विटर ने खुद ही ऐसे अकाउंट बहाल कर दिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 3, 2021, 5:09 PM IST
  • Share this:

नई दिल्ली. किसान के नरसंहार वाले हैशटैग पर कार्रवाई न करने पर केंद्र सरकार द्वारा ट्विटर (Twitter) को नोटिस जारी किया है. बता दें कि ट्विटर पर #ModiPlanningFarmerGenocide हैशटैग चलाया गया था. सरकार ने ट्विटर को ऐसे अकाउंट पर कार्रवाई करने के लिए कहा था, लेकिन ट्विटर ने खुद ही ऐसे अकाउंट बहाल कर दिए. बताया जा रहा है कि अगर ट्विटर ने जल्द ही केंद्र सरकार के निर्देशों का पालन नहीं किया तो उस पर कार्रवाई की जा सकती है.

ट्विटर को जारी किए गए नोटिस में कहा गया है, " #ModiPlanningFarmerGenocide हैशटैग का इस्तेमाल लोगों को उकसाने, नफरत फैलाने के लिए किया गया था और यह तथ्यात्मक रूप से भी गलत था. यह समाज में तनाव पैदा करने के लिए चलाया गया अभियान था. नरसंहार के लिए उकसाना अभिव्यक्ति की आजादी नहीं है. यह कानून व्यवस्था के लिए खतरा है.'

नोटिस में आगे लिखा गया है, 'दिल्ली में गणतंत्र दिवस के दिन हिंसा हुई. सरकार की ओर से विवादित ट्वीट करने वाले अकाउंट्स को ब्लॉक किए जाने के आदेश देने के बावजूद ट्विटर ने अपनी मर्जी से इन अकाउंट्स को दोबारा एक्टिवेट कर दिया.'

30 जनवरी को ट्विटर पर लीड हुआ था हैशटैग
ट्विटर पर #ModiPlanningFarmerGenocide हैशटैग के साथ ट्वीट किए जा रहे थे. 30 जनवरी को ये हैशटैग ट्विटर पर लीड कर रहा था. इसमें से कई ट्वीट/ट्विटर अकाउंट विदेश से चल रहे थे. सस्‍पेंड होने वाले अकाउंट में कुछ किसान यूनियन और किसान नेताओं के अकाउंट भी शामिल हैं. जानकारी के मुताबिक ट्विटर को इन अकाउंट्स को ब्लॉक करने का आदेश दिया गया था.

Youtube Video

पहले ट्विटर ने सस्पेंड किए थे 500 अकाउंट्स



इससे पहले 27 दिसंबर को राजधानी दिल्ली में गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर परेड के दौरान हिंसा के बाद ट्विटर ने 500 अकाउंट्स को सस्पेंड किया था. ट्विटर ने कहा था कि इन अकाउंट्स पर लेबल भी लगाए गए हैं. इस कार्रवाई पर ट्विटर के प्रवक्ता ने कहा कि हिंसा, दुर्व्यवहार और धमकियों की उनके प्लेटफॉर्म पर कोई जगह नहीं है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज