लाइव टीवी

सरकार के मंत्रियों को अब मिलेगा 2024 तक पूरा करने वाला कड़ा होमवर्क

अमिताभ सिन्हा | News18Hindi
Updated: December 16, 2019, 3:39 PM IST
सरकार के मंत्रियों को अब मिलेगा 2024 तक पूरा करने वाला कड़ा होमवर्क
सरकार के मंत्रियों को अब मिलेगा 2024 तक पूरा करने वाला कड़ा होम वर्क

दिल्ली के गर्वी गुजरात भवन में पीएम मोदी ने काउंसिल ऑफ मिनिस्टर्स की बैठक बुलाई है. 21 दिसंबर को गर्वी गुजरात भवन में दिन भर बैठक चलेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 16, 2019, 3:39 PM IST
  • Share this:
सौ दिन सरकार के या फिर 6 महीने का रिपोर्ट कार्ड या फिर एक साल पूरे हुए तो एक साल में सरकार के कामकाज का लेखा-जोखा. अब तक देश की जनता इन्ही रिपोर्ट कार्ड का इंतजार करती रहती थी लेकिन अब ऐसा नहीं होगा. पीएम मोदी एक बार फिर अपने आउट ऑफ बॉक्स आइडिया के साथ सामने आ रहे हैं. इस आइडिया के मुताबिक अब नए सिरे से सभी विभागों के लक्ष्य निर्धारित किए जाएंगे और मंत्रियों को इस बात से अवगत कराया जाएगा कि अगले साढ़े चार साल के लिए उनका होम वर्क क्या है.

दिल्ली के गर्वी गुजरात भवन में पीएम मोदी ने काउंसिल ऑफ मिनिस्टर्स की बैठक बुलाई है. 21 दिसंबर को गर्वी गुजरात भवन में दिन भर बैठक चलेगी. इस बैठक की खास बात ये है कि सोशल सेक्टर से जुड़े लगभग आधा दर्जन मंत्रालयों के सचिव मंत्रियों के सामने अपने विभाग का प्रेजेंटेशन देंगे. पीएम मोदी ने सरकार की नीतियां बनाने के लिए तमाम सचिवों को कहा था. पीएम मोदी ने कहा था कि अब ये बड़े अधिकारी बताएं कि आने वाले वर्षों के लिए सरकार की नीतियां कैसी हो, जिन्हें 2024 तक पूरा करना मुश्किल भी न हो. इस बाबत सचिवों का एक समूह भी बनाया गया था. इस समिति ने अब अपनी रिपोर्ट तैयार कर ली है. अब इन विभागों के सचिव पूरे मंत्रिमंडल के सामने विकास के इस नए प्लान पर प्रजेंटेशन देंगे.

जाहिर है मोदी 2.0 के पहले 6 महीने मोदी सरकार ने अपने मेनिफेस्टो में किए गए वायदों को अमली जामा पहनाया. इसमें धारा 370, तीन तलाक, सीटीजनशिप अमेंडमेंट बिल, राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला जैसे काम तो पहले 6 महीने में ही हो गए. 303 सीटें जीतकर सत्ता में आए पीएम मोदी जानते हैं अब विकास के काम पर ही ध्यान लगाना होगा ताकि अगले चुनावों तक फिर से पकड़ मजबूत रहे. पीएम मोदी ने 2024 तक का लक्ष्य तय करने का फैसला लिया है ताकि झटपट सभी अपने-अपने काम पर लग जाएं.

इसे भी पढ़ें :- नागरिकता कानून: पीएम मोदी बोले- लोकतंत्र में हिंसा की जगह नहीं, अफवाहों से बचें लोग

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 16, 2019, 3:37 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर