PM-सांसदों की सैलरी में एक साल तक होगी 30% की कटौती, जानें अब कैसी होगी पे-स्लिप

PM-सांसदों की सैलरी में एक साल तक होगी 30% की कटौती, जानें अब कैसी होगी पे-स्लिप
वर्तमान समय में लोकसभा में 542 और राज्यसभा में 238 सदस्य हैं.

कोरोनाकाल (Coronavirus Crisis) का बड़ा असर अर्थव्यवस्था पर पड़ा है. ऐसे में कई सरकारी और प्राइवेट कंपनियों में पहले से ही कर्मचारियों की संख्या सीमित कर दी गई है और सैलरी में कटौती की जा रही है. अब सांसदों, मंत्रियों के वेतन-भत्ते में भी कटौती होगी. इसके लिए संसद सदस्य वेतन, भत्ता और पेशन विधेयक (Salaries and Allowances of Ministers Amendment Bill, 2020) लोकसभा में पास हो चुका है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 16, 2020, 2:25 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. संसद सदस्य वेतन, भत्ता और पेंशन विधेयक (Salaries and Allowances of Ministers Amendment Bill, 2020) लोकसभा में पास हो चुका है. इसके तहत एक साल तक सांसदों की सैलरी 30 फीसदी कटकर मिलेगी. इसके अलावा प्रत्येक सांसदों को हर साल 5 करोड़ रुपये उनकी सांसद निधि के तहत मिलता है जो अब 2 साल के लिए स्थगित कर दी गई है. इससे बचे पैसों का इस्तेमाल कोरोना वायरस (Covid-19) महामारी के कारण पैदा हुई स्थिति से लड़ने के लिए किया जाएगा.

सोमवार को लोकसभा में संसदीय मामलों के मंत्री प्रह्लाद जोशी (Pralhad Joshi) ने निचले सदन में संसद सदस्यों के वेतन, भत्ता एवं पेंशन संशोधन विधेयक 2020 को पेश किया गया था. यह विधेयक संसद सदस्यों के वेतन, भत्ता एवं पेंशन अध्यादेश 2020 का स्थान लेगा. आर्टिकल 106 के तहत सरकार ने ये संशोधन किया है. जिन सांसदों की सैलरी में एक साल तक कटौती होगी, उनमें प्रधानमंत्री, कैबिनेट मंत्री, राज्यमंत्री और सांसद शामिल हैं. विधेयक के तहत सैलरी में कटौती एक अप्रैल 2020 से अगले वित्तीय वर्ष तक प्रभावी रहेगी. आइए जानते हैं 30 फीसदी कटौती के बाद अब सांसदों और मंत्रियों को कितनी सैलरी मिलेगी...





कितनी है सांसद की सैलरी?

आगे पढ़ें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज