'हवा से फैलता है कोरोना वायरस'- सरकार ने जारी किए नए कोविड प्रोटोकॉल, स्टेरॉयड को लेकर भी सलाह

एक्सपर्ट्स आशंका जता रहे थे कि कोविड-19 के जूझ रहे मरीज के उपचार में इस्तेमाल किए जा रहे स्टेरॉयड ब्लैक फंगस का बड़ा कारण बन सकते हैं. (सांकेतिक फोटो)

एक्सपर्ट्स आशंका जता रहे थे कि कोविड-19 के जूझ रहे मरीज के उपचार में इस्तेमाल किए जा रहे स्टेरॉयड ब्लैक फंगस का बड़ा कारण बन सकते हैं. (सांकेतिक फोटो)

Covid-19 Management Protocol: सरकार ने नए कोविड के प्रोटोकॉल में डब्ल्यूएचओ की जानकारी को शामिल किया है. इसमें कहा जा रहा था कि कोरोना हवा के जरिये फैल सकता है. नए नियमों में स्टेरॉयड, रेमडेसिविर और टोसीलिज़ुमैब दवा के ठीक तरह से उपयोग की जाने की बात कही है.

  • Share this:

नई दिल्ली. भारत (India) में दूसरी लहर (Second Wave) के बीच सरकार ने एक बार फिर से कोविड के प्रोटोकॉल में बदलाव किए हैं. सरकार ने कहा है कि कोरोना वायरस (Coronavirus) हवा के जरिए फैलता है. बुधवार को सरकार की तरफ से जारी की गई जानकारी में विश्व स्वास्थ्य संगठन की नई प्राप्तियों को भी शामिल किया है. इसके अलावा सरकार ने बीमारी के उपचार के दौरान इस्तेमाल की जा रही दवाओं को लेकर सलाह दी है.

सरकार ने कोविड के नए प्रोटोकॉल में डब्ल्यूएचओ की जानकारी को शामिल किया. इसमें कहा जा रहा था कि Sars-Cov-2 हवा के जरिए फैल सकता है. इसके अलावा नए नियमों में सरकार ने स्टेरॉयड, रेमडेसिविर और टोसीलिज़ुमैब दवा के ठीक तरह से उपयोग की जाने की बात कही है. सरकार ने बीमारी से उबरने के बाद जटिलताओं से बचने के लिए इन दवाओं का विवेकपूर्ण इस्तेमाल करने के लिए कहा है.

ब्लैक फंगस पर जोर

एक्सपर्ट्स आशंका जता रहे थे कि कोविड-19 से जूझ रहे मरीज के उपचार में इस्तेमाल किए जा रहे स्टेरॉयड ब्लैक फंगस का बड़ा कारण बन सकते हैं. देश में लगातार म्यूकरमाइकोसिस के मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है. राजस्थान, पंजाब समेत कई राज्यों में इस दुर्लभ फंगल इंफेक्शन को महामारी घोषित किया जा चुका है. बीते दिनों एम्स के निदेशक डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने भी स्टेरॉयड के विवेकपूर्ण इस्तेमाल की सलाह दी थी.
समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया है कि देश में रिकवरी रेट बढ़कर 89.66 प्रतिशत पर पहुंच गया है. साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट 11.45 फीसदी और दैनिक दर 9.42 प्रतिशत पर है. लगातार दो दिनों से पॉजिटिविटी रेट 10 प्रतिशत से कम बना हुआ है.


मंगलवार को देश में कोरोना के 2 लाख 8 हजार 921 नए मरीज मिले. इस दौरान एक बार फिर मौत का आंकड़ा चार हजार के पार चला गया. नए आंकड़ों को मिलाकर भारत में कोरोना के मरीजों की संख्या 2 करोड़ 71 लाख 57 हजार 795 पर पहुंच गई है. जबकि, अब तक 3 लाख 11 हजार 388 मरीज अपनी जान गंवा चुके हैं. अच्छी खबर है कि टीकाकरण का आंकड़ा 20 करोड़ को पार कर गया है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज